Database Concepts क्या है! डेटाबेस की धारणाए तथा Database के प्रकार.

2
27

Database Concepts क्या होता है? आपकी जानकारी के लिए आपको जान लेना चाहिए की डेटाबेस की धारणाए कौनसी है? वह सभी expert जानते है डेटाबेस का काम क्या होता है जो इसका इस्तेमाल अच्छे से करना जानते है.

Database Concepts Begginers Ke Liye-min

Database Concepts Data का एक ऐसा Organised collection होता है, जिसमें हम किसी भी information को सरलता से प्राप्त कर सकते हैं. इससे पहले भी हमने डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम के बारे मे जानकारी दी है अगर आपने अब तक नहीं पढ़ा तो opportunity न गवाए तो बेहद अच्छा रहेगा.

> जरुर पढ़े – कंप्यूटर सॉफ्टवेर का अर्थ और software के प्रकार.

Database Concepts की जानकारी.

डेटाबेस व्यवस्थित इसलिए होता है क्योंकि इसमें किसी भी डेटा या सूचना को एक निश्चित स्थान पर पहले से तय किए हुए रूप में रखा जाता है, ताकि कभी भी आवश्यकता पड़ने पर उसे आसानी से ढूंढ कर देखा जा सके.

विभिन्न Application Programmer और विभिन्न अंत Users के पास डेटा के बारे मे अपने-अपने विचार होते हैं जिन्हें एक common overall data structure से लिया जाना चाहिए. डेटा खोजने और एक्सेस करने के उनके तरीके भी अलग हो सकते.

Organised Database में हमें निचे दिए गए कार्य करने की सुविधा होती है:

  • आवश्यक Information को निकालना.
  • इनफार्मेशन के अनुसार उचित कार्यवाही करना या निर्णय लेना.
  • सूचनाओं को नई आवश्यकताओं के अनुसार फिर से organised करना
  • Information के आधार पर report आदि बनाना.
  • और नई इनफार्मेशन निकालना आदि.

एक Database, डेटाबेस नामों की सूची की एक File के रूप में आसान भी हो सकता है और डेटा के बहुत से फायदे के समूह में रूप मे कठिन भी हो सकता है. चलिए अब देखते database ke prakar kitane है.

डेटाबेस के प्रकार (types of database).

डेटाबेस मुख्य रूप से तीन प्रकार का होता है जो जिनकी विस्तार से जानकारी निचे दी गयी है. database concepts अगर आप समज लेंगे तो technology जगत मे आपको यह बेहद काम आएगा इसकी guaranty हर कोई देगा.

  • नेटवर्क डेटाबेस (network database concepts).

इस प्रकार के डेटाबेस में Group of data records के रूप में तथा data के बीच संबंध link के माध्यम से दर्शाया जाता है

  • हैरार्रीकल  डेटाबेस (hierarchical database concepts).

इस प्रकार के डेटाबेस में data को वृक्ष के रूप में नोट्स के माध्यम से व्यवस्थित किया जाता हायरार्की डेटाबेस इसमें nodes के माध्यम से organized किया जाता है. इस प्रकार के databases मे nodes आपस मे लिंक के माध्यम से जुड़ी होती है.

  • रेलेशनबल डेटाबेस (relational database concepts).

रिलेशनल डेटाबेस को Sun databases भी कहा जाता है, जिसमें डेटा को tables के रूप में stored किया जाता है. इस डाटा टेबल में column, table में स्टोर होने वाली डेटा के प्रकार को तथा rows डेटा को दर्शाती है.

  • डेटा (Data).

किसी वस्तु, व्यक्ति या समूह के बारे में किसी तथ्य या जानकारी को डाटा कहा जाता है. किसी व्यक्ति का नाम, किसी वस्तु का weight तथा price, किसी कक्षा के students की उम्र यह सभी data में शामिल होती है.

  • सूचना (information)

जब किसी डेटा को सार्थक तथा उपयोगी बनाने के लिए organized किया जाता है तो हम उसे इनफार्मेशन कहते है. उदाहरण के लिए, एक कक्षा के छात्र के score (अंक) से निकाला जा सकता है. संक्षेप मे, डेटा database मे store values को refer करता है, जबकि सूचना उन values मे से नकले गए Meaning of conclusion को संधर्भित करती है.

कंप्यूटरिक्रूत डेटाबेस की आवश्यकता.

database concepts मे computerized database क्यो जरुरी है यह भी आप को जान लेना चाहिए अगर आपको डेटाबेस की धारणाये समजनी है. हाथ से बनाये डेटाबेस में बहुत सी समस्याएं होती है, जैसे कि :

  1. नए डाटा को जोड़ने की समस्या,
  2. data को बदलने की समस्या,
  3. डाटा को शर्तो अनुसार प्राप्त करने की समस्या आदि.

सभी समस्याओं को दूर करने के लिए computerized databases का निर्माण किया गया. इसमें सभी इनफार्मेशन computer पर की जाती है और कंप्यूटर की सहायता से ही उनका maintenance and processing की जाती है. computer data base बनाने के कुछ कारण है जो निचे समजाये गए है.

  1. कंप्यूटर पर बड़े आकार का डेटाबेस आसानी से बनाया जा सकता है क्योंकि उसमें data store करने की क्षमता अधिक होती है.
  2. computer speed अच्छी होने के कारण कितने भी बड़े database मे से कोई भी इश्चित इनफार्मेशन निकालना और database पर विभिन्न क्रियाये करना आदि बहुत कार्य कम समय मे ही संपन्न हो जाते है. इतना ही नहीं, कंप्यूटर स्पीड होने कारण उस पर कोई भी लंबी-चौड़ी report निकालना या print करना सिर्फ मिनटो को काम होता है.
  3. इसमें हस्त चालित डेटाबेस की तुलना में बहुत कम खर्च आता है.

इस तरह से database concepts मे computerized database कितना महत्वपूर्ण होता है आपको अब पता चल गया होगा.

डेटाबेस के अवयव (components of database).

एक डेटाबेस विभिन्न प्रकार के organ से मिलकर बना होता है. database का प्रत्येक अवयव ऑफसेट कहलाता है, प्रत्येक डेटाबेस फ़ाइल में आप अपने डेटा को विभिन्न श्रेणियों में विभाजित कर सकते हैं, फॉर्म के माध्यम से tables data को देख सकते हैं, नया डाटा जोड़ सकते हैं तथा update  भी कर सकते हैं.

Types Of Database Concepts DBMS Management

query (क्वेरी) के माध्यम से आवश्यकतानुसार टेबल में से डाटा को search कर सकते हैं और रिपोर्ट के माध्यम से data analyse का डाटा के लेआउट निकाल सकते है. database concepts मे अब देखते है databases organs work क्या करते है.

  • डेटाबेस के अवयवो का कार्य निम्नलिखित है.

सारणी (table) वैसे तो डेटाबेस कई प्रकार के होते हैं परंतु  सबसे ज्यादा Prevalent and Natural Database relational डेटाबेस है. जिसमे data एक table के रूप मे store होता है. tables column rows के कटाव से बने cells tables मे data store करने के इस्तेमाल किया जाता है.

इन tables पर विभिन्न प्रकार के operation जैसे की, डाटा को स्टोर करना, filtering करना, recover करना, डाटा editing करना आदि काम किये जा सकते है. मुख्य रूप से टेबल field तथा record से मिलकर बनी होती है .

  • क्वेरी (query).

किसी table या database में आवश्यकतानुसार डाटा को निकालने के लिए जो आदेश दिया जाता है उसी ही query कहां जाता है. उदाहरण के लिए आप अगर अपने मेरठ शहर में रहने वाले मित्रों की सूची निकालनी चाहते है तो उसे एक क्वेरी कहेंगे.

क़वेरी आप की आवश्यकता अनुसार डेटा को निकालने के लिए आवश्यक Video terms table का नाम आदि को दर्शाता है. किसी query के answer में जो information database record से निकाले जाते है उसे क्वेरी का डायनासेट कहते हैं

  • फॉर्म (Forms).

यद्यपी आप tables मे डेटा को store कर सकते है तथा सुधार भी कर सकते है. database concepts मे फॉर्म्स की काफी value होती है. लेकिन tables मे डाटा को store करना तथा edit करना आसान नहीं होता है. इस समस्या को form की मदत से दूर किया जाता है.

फॉर्म आपकी स्क्रीन पर एक एसी window होती है, जिसकी सहायता से आप किसी टेबल मे भरे गए डेटा को देख सकते है, सुधार कर सकते है और नया data जोड़ भी सकते है. सामान्यता form एक समय एक record को देखने तथा editing के लिए इस्तेमाल किये जाते है.

  • रिपोर्ट (report).

सरल शब्दों में कोई रिपोर्ट एक ऐसा डायना सेट है जिसे, कागज पर छापा गया है. आप किसी डायना सेट की सूचनाओं को किन्ही आधारों पर Grouped कर सकते हैं. database concepts तो अब clear हो गया लेकिन क्या आप जानते है डेटाबेस का इस्तेमाल किस क्षेत्र मे किया जाता है? कुछ पोपुलर जगह निचे दी गयी है जहापर इनका इस्तेमाल होता है.

  • Banking,
  • Universities,
  • Airlines,
  • Credit Card Translations,
  • Call & Sell,
  • Finance,
  • Human Resources.

इस प्रकार से ऊपर दी गयी जानकारी सभी प्रकार के डेटाबेस की धारणाये की पूरी जानकारी दे दी गयी है. database management system (डेटाबेस मैनेजमेंट प्रणाली) याने की DBMS की जानकारी यहा पर देख सकते है.

डेटाबेस कॉन्सेप्ट्स के लिए अंतिम शब्द.

डेटाबेस की धारणाए विस्तार से जानने मे काफी समय लगा जायेगा. इसे पढ़ने के बात हम दावे से कह सकते है की अब आप database kya hai यह तो पूछेंगे ही नहीं. तो देर की बात की है अभी database concepts pdf note बनाइये और अपने knowledge को और अधिक बढ़ावा दीजिये.

> जरुर पढ़े – कंप्यूटर शब्दावली (Computer Glossary) सब कुछ जाने यहा.

आशा करते है इस जानकारी से database concepts access करने मे बेहद फायदा होता होगा. आपसे निवेदन है database basic concepts beginner के लिए बेहद जरुरी होता है. डेटाबेस कॉन्सेप्ट्स की जानकारी सोशल मीडिया मे शेयर करना ना भूले. डेटाबेस की धारणाये क्या है इसकी पूरी जानकारी आर्टिकल मे कवर कर दी गयी है.

***

2 COMMENTS

  1. Bro mene abhi apne blog ko blogger se wp par kiya hai to please aap ek baar check karlo aur agar kuch kami ho to suggestion de do

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here