प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना – प्रति बूंद अधिक फसल (सूक्ष्म सिंचाई घटक) योजना की पूरी जानकारी.

0
41

Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana PMKSY – Per Drop More Crop (Micro-irrigation Component) याने की प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना अब प्रति बूंद अधिक फसल (सूक्ष्म सिंचाई घटक) योजना की पूरी जानकारी यहा मिलने वाली है.

PMKSY Pradhan mantri krishi sinchayee yojna
PMKSY Pradhan mantri krishi sinchayee yojna

आपको पता होगा की MahaDBT Department Of Agriculture Department द्वारा online प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना Drop Irrigation के लिए Application मंगाए जा रहे जो सन 2019 से MahDBT Farmer Schemes Portal पर भरे जानेवाले है.

PM Krishi Sinchai Yojana ही PMKSY योजना कहा जाता है। पीएमकेएसवाय योजना को मुख्य Mission ही है Agriculture Farm Productivity मे सुधार लाने का और पुरे देश भर मे Resources के बेहतर Utilization को सुनिश्चित करने के लिए बनाया गया एक national mission है।

प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना का उद्देश क्या है?

पीएमकेएसवाई PMKSY Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana का मुख्य उद्देश्य क्षेत्र स्तर पर सिंचाई में अभिसरण में निवेश प्राप्त करना, सुनिश्चित सिंचाई के तहत खेती योग्य क्षेत्र का विस्तार करना, पानी की बर्बादी को कम करने के लिए कृषि-जल उपयोग दक्षता में सुधार करना, सटीक-सिंचाई और अन्य जल बचत प्रौद्योगिकियों को अपनाना है।

PMKSY Pradhan Mantri Krishi Sinchayee YojanaPer Drop More Crop (Micro-irrigation Component) (प्रति बूंद अधिक फसल), aquifers के पुनर्भरण में वृद्धि की और municipal waste water के लिए व्यवहार्यता के पुन: उपयोग की खोज के लिए सतत जल संरक्षण प्रथाओं की शुरुआत की और सटीक सिंचाई प्रणाली में अधिक से अधिक निजी निवेश को आकर्षित किया।

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना छोटे-बड़े किसानो के लिए जरुर बनाई गयी है but इसके लिए कुछ पात्रता मानदंडो को पूरा करना पढ़ेगा तभी PMKSY Scheme Benefits किसान को मिल पायेगा।

तो क्या है यह Drip Irrigation Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana चलिए थोडा विस्तार से समजने का प्रयास करते है ।

PMKSY ड्रिप सिंचाई योजना की जानकारी.

ड्रिप सिंचाई एक फसल के पेड़ की जड़ में एक छोटी ट्यूब के माध्यम से बूंदों को सींचने की आधुनिक विधि है जिसका नाम है Drip Irrigation है । इस विधि में, मिट्टी में जिस गति से पानी उपलब्ध होता है, उससे कम गति पर सिंचाई का पानी उपलब्ध कराया जाता है।

पानी की आपूर्ति मुख्य रूप से बूंदों से होती है। कम समय मे अधिक पाणी फसल को पहुचाकर पानी की बर्बादी रुकती है। महाराष्ट्र ड्रिप सिंचाई का प्रमुख उत्पादक है, और भारत में कुल ड्रिप सिंचाई का केवल 8% महाराष्ट्र में ही किया जाता है।

फ्रॉस्ट सिंचाई (पानी के छिड़काव के रूप में भी जाना जाता है) एक उपकरण है जिसका उपयोग कृषि फसलों, लॉन, परिदृश्य, गोल्फ कोर्स और अन्य क्षेत्रों में सिंचाई के लिए किया जाता है।

इसका उपयोग हवा की धूल को ठंडा और नियंत्रित करने के लिए भी किया जाता है। फ्रॉस्ट सिंचाई बारिश के समान नियंत्रित तरीके से पानी का उपभोग करने का एक तरीका है।

पानी एक नेटवर्क के माध्यम से वितरित किया जाता है जिसमें पंप, वाल्व, पाइप और स्प्रिंकलर शामिल हो सकते हैं।

इन सिंचाई का उपयोग आवासीय, औद्योगिक और कृषि उपयोग के लिए किया जा सकता है। जब एक पंप की मदद से पानी को मुख्य पाइप से दबा दिया जाता है, तो Rotating nozzle (घूमने वाला नोजल बाहर निकल जाता है और फसल पर छिड़का जाता है।

Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana Eligibility.

उपरोक्त जानकारी के बाद अब प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना के पात्रता मानदंडो के अनुसार किसानो को अब आगे बढ़ना होगा ।

सभी किसान भाइयो को आग्रहित किया जाता है की पूरी जानकारी को पढ़े बिना PMKSY Drip योजना के लिए आवेदन ना करे ।

प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना के लिए अनुदान.

  • 1 हेक्टेयर की सीमा के भीतर किसानों को लाभान्वित किया जाएगा।
  • किसान एससी, एसटी जाति के होने चाहिए ।
  • यदि जाति प्रमाण पत्र की आवश्यकता होगी तो माँगा जायेगा।
  • किसान को बिजली पानी पंप के लिए एक स्थायी विद्युत कनेक्शन की आवश्यकता होती है So इसके लिए किसानों को Electricity bill copy जमा करनी होगी।
  • अधिक बार PMKSY योजना का लाभ नहीं उठा सकते।
  • सूक्ष्म सिंचाई प्रणाली केवल एक कंपनी के प्रतिनिधि द्वारा बनाई जानी चाहिए।
  • आवेदन करने वाले किसानो के पास 7/12 प्रमाणपत्र और 8-ए प्रमाणपत्र होना चाहिए।
  • किसान के पास आधार कार्ड होना चाहिए।
PMKSY योजना से महत्वपूर्ण सूचना.

यदि लाभार्थी किसान 2-3 वर्ष से पहले इस Component के तहत किसी particular survey number के लिए लाभान्वित हुआ है, तो उसे अगले 3 वर्षों के लिए उस Survey number के लिए लाभान्वित नहीं किया जाएगा।
और
यदि लाभ लेने वाला किसान 2-3 के बाद इस घटक के तहत किसी विशेष सर्वेक्षण संख्या के लिए लाभान्वित हुआ है, तो उसे अगले 3 वर्षों तक उस सर्वेक्षण के लिए लाभान्वित किया जाएगा।

मतलब PMKSY Har Khet ko pani’ योजना का लाभ लेने वाले किसानो को 2016-17 तक सूक्ष्म सिंचाई घटक के लाभ दिए जाने के बाद अगले 10 वर्ष तक लाभ नहीं दिया जायेगा या फिर वह Eligible नहीं होगा.

तथा इस मे बदलाव होने के बाद अब वर्ष 2017-18 से इसमें कटोती करके इसकी अवधि अब 7 वर्ष तक तय की गयी है।

PMKSY- प्रधान मंत्री कृषि सिचाई योजना के लिए अनुदान कितना मिलेगा?

इस योजना का लाभ छोटे, अल्प भुधारक किसान और अन्य किसान इस तरह के आधार पर दिया जाता है जो Central Government के Guidelines के अनुसार PMKSY योजना के तहत Beneficiary को देय अनुदान दिया जाता है जो निचे बताया गया है।

1) छोटे और अल्प भूमिधारक किसान के लिए 55% लाभ.
2) अन्य किसानो के लिए 45% लाभ.

ज्यादा जानकारी और लाभ देखने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें या फिर Download करे Benefit Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana Per Drop More Crop.pdf File सीधे यहा से ।

इस प्रकार से उपरोक्त जानकारी मे PMKSY Eligibility, उद्देश और Benefits की जानकारी देखि है Now देखते है Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana – Per Drop More Crop (Micro-irrigation Component) योजना के लिए दस्तावेज कौनसे-कौनसे लगते है ।

पीएमकेएसवाई योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज.

भारत सरकार के Ministry of Agriculture & Farmers’ Welfare Department ने इस योजना के लिए कुल मिलाकर भारतीय मुद्रा मे INR 2,600 करोड़ और अमेरिकन डॉलर मे US$379.8 Million Dollar का Budget रखा है।

पीएमकेएवाई प्रति बूँद अधिक फसल याने की प्रधान मंत्री सिंचाई योजना online application करने के लिए अब किसानो को निचे दिए गए Documents Upload करना जरुरी है।

  1. 7/12 Certificate,
  2. Light Bill,
  3. 8A प्रमाण पत्र
  4. बिजली का बिल,
  5. Pre Sanction Letter
  6. खरीदे गए ड्रिप सेट का मूल बिल.

इस प्रकार से सभी जरुरी दस्तावेज Prime Minister Krishi Sinchayee Yojana PMKSY Har Khet ko Pani योजना के लिए जरुरी है ।

सबसे जरुरी बात पीएमकेएसवाई योजना के बारे में.

एक बार किसान को Har Khet ko Pani PMKSY Prime Minister Krishi Sinchayee Yojana” Pre-approval प्राप्त हो जाने के बाद, उसे अधिकृत डीलरों और वितरकों से Micro Irrigation Set खरीदना होगा ।

इस सेट को खरीदने के बाद इसे अपने खेत में स्थापित करना भी करना होगा और Pre-approval के बाद 30 दिनों के भीतर खरीदे गए Invoice को अपने डीलर द्वारा Upload करना होगा ।

धन्यवाद अब हर खेत पानी बूंदों से सजाये खेती. मेरे देश का हर किसान अब Farmer Scheme Department Of Agriculture योजनाओ को समज रहा है। आइये हमारे साथ जुड़े और अपने सभी किसान भाइयो तक PMKSY Drip Irrigation की जानकारी को साझा करने मे अपना योगदान दे।

हमें बताये आपको Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana – Per Drop More Crop (Micro-irrigation Component) योजना का लाभ लेने मे कोई समस्या आये तो. कई agents आपसे पैसे लूटने का प्रयास करेंगे किसी झांसे मे ना आये और ध्यानपूर्वक प्रधान मंत्री कृषि सिंचाई योजना PMKSY Apply करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here