उन लोगो के लिए बहुत ही Important जानकारी इस Post में है जो अपने Saving और Retirement को लेकर बेहद चिंतित होते है। इसी को देखते हुए NPS scheme in Hindi Information हम उनके लिए ही जारी कर रहे है।

NPS Full Information IN Hindi

NPS Kya Hota Hai Full Details यहाँ पर शामिल कि गयी है जिसकी जानकारी हर उस व्यक्ति के लिए जरुरी है जो अपने और Family के भविष्य की चिंता करते है.

Related – EPF Claim Settelement

NPS Kya Hai?

NPS का Full Form Hindi में “राष्ट्रीय पेंशन योजना” होता है और यह एक ऐसा Initiative है जो कि Central Government के द्वारा Social security को cover करता है।

NPS Full Form यह “NATIONAL PENSION SCHEME” होता है यानी कि एनपीएस एक ऐसा program है जिसमें Public Sector तथा Private Sector के employees भी आते है।

वह लोग जो कि किसी Un-Organized Sector में काम करते हैं और वह लोग जो नौकरी करने के समय से लेकर के अपने Retirement के समय तक या फिर एक निश्चित समय सीमा तक अपने NPS Account में की राशि जमा कराते हैं।

इसी के साथ Retirement के समय कुछ प्रतिशत तक की राशि उस National Pension Account से निकाल सकते हैं, तथा बची हुई राशि को Retirement के बाद में हर महीने आपके बैंक Account में Transfer किया जाएगा।

NPS Savings आपको एक pension की तरह आपको दिया जाएगा। National Pension Scheme के अंतर्गत किसी भी Sector में काम करने वाला employee अपने खुद के मन से इस Pension Scheme में Investment कर सकता है।

केवल Indian Armed Forces ही इस Pension Scheme में अपने Investment नहीं कर सकते हैं। इस योजना को ही NPS Ka Full Form याने की “नेशनल पेन्शन स्कीम” कहा जाता है।


NPS Eligibility Criteria क्या है?

एनपीएस एक Government और Public scheme भी जिसमे 2 Tier बनाये गए है। उसके अनुसार दोनों में थोडा Difference है जो NPS के लिए कौन Eligible है यह बताएगा।

एनपीएस अकाउंट के लिए योग्यता?

  • सभी भारतीय जो भारत का नागरिक होगा फिर चाहे वह निवासी हो या फिर अनिवासी,
  • NPS Age Limit रखी गयी है जिसमे आवेदक की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच में ही होनी चाहिए,
  • बिना Online NPS Form भरे Government Employees योग्य नहीं होंगे,
  • आवेदक यदि Unorganized public sector से है तो उन्हें Offline NPS PDF Form को Download करके जमा करना होगा जिसका KYC भी Complete करना जरुरी है,
  • इनके अलावा समय-समय पर बनाये जाने वाले एनपीएस नियम का पालन करना होगा.

इस प्रकार से एनपीएस के लिए आवेदक Eligible हो सकते है। ध्यान रहे यदि आप किसी भी Organizations, Private Jobs या Government Job नहीं भी करते है फिर भी National Pension System Account खोल सकते है।


National Pension Scheme में Deductions limit.

Tax Savings के लिए NPS Deduction Limit में आमतौर पर ₹150000 की होती है। जो कि कोई भी NPS Account Holder claim कर सकता है।

यदि कोई National Pension Scheme Account Holder व्यक्ति जो कि एक taxpayer भी है तो उस व्यक्ति के Gross Total Income का 20% Deduction Limit हो सकता है।

इससे विपरीत कभी-कभी किसी भी मामले में कोई भी Deduction नहीं हो सकता। फिर कहे तो एक subscriber अपने पूरे tenure में NPS Rules के अनुसार 3 बार बड़ी amount अपने NPS account से निकल सकता है।

Related – EPF Details Correction कैसे करे?

NPS Interest Rate कितना है?

यदि आपने National Pension Scheme में Invest करने का सोचा है तो आपको इसके बारे में पता होना चाहिए कि National Pension Scheme आपको कितना Return प्रदान कर देगी।

यानि कि आपको कितना ब्याज दर एनपीएस में मिल सकता है। एक National Pension Scheme Account के ऊपर 8% से लेकर के 10% तक का सालाना Return किसी भी National Pension Scheme Account Holder को मिल सकता है।

National Pension Scheme वर्ष 2021-2022 के लिए 9% से लेकर के 12% तक का Interest rate अपनी Subscriber उसको देती है।


National Pension Scheme में Tax Benifits क्या मिलते हैं?

आपको nps tax benefit भी पता होने चाहिए क्योकि यह आपका अधिकार है कई Employees और लोग है जो की NPS Tier 2 में इस योजना से जुड़े है लेकिन योजना की जानकारी हासिल नहीं की है

क्योकि सही जानकारी होने पर ही आपको सही NPS Returns Calculation करना आएगा और सही तरीके से Tax saving भी करना आ जायेगा

  • National Pension Scheme के अंदर इनकम Tax के Deduction section 80c के अंतर्गत किसी भी व्यक्ति का ₹1,50,000 तक का Deduction Claim किया जा सकता है।
  • यदि एक व्यक्ति जोकि National Pension Scheme में Account होता है उसके ग्रॉस सैलरी का ज्यादा से ज्यादा 10% Amount Deduction Claim किया जा सकता है।
  • यदि एक व्यक्ति Self Employed Taxpayer है तो उसका 20% तक का ग्रॉस इनकम के ऊपर Deduction Claim की Limit होती है।
  • National Pension Scheme के ग्रॉस Investment का 60% तक का पूरा हिस्सा Tax फ्री है।

यह NPS के फायदे है, माना की नेशनल पेंशन सिस्टम के फायदे है लेकिन जो पहले बिना Fund Invest किये पुराणी पेंशन योजना थी उसके मुकाबले इसके नुकसान है

एनपीएस के नुकसान.
  • एनपीएस में सबसे पहला नुकसान Withdrawal Limit रखना है,
  • Government Employee के लिए अपने ही जमा पैसो का Pension दिया जाता है,
  • Retirement Savings के लिए रखे गए NPS Fund यह Share Market के अधीन है,
  • सिर्फ 60% तक की NPS Amount Tier 1 में Retired होने पर दिया जाता है और बाकि 40% Stock Market में लगाये जाते है जिनके Returns की कोई Garranty नहीं है,
  • कई प्रकार के Investment Restrictions लगाये गए है जो आवेदक को बांधकर रखता है,
  • अपने ही पैसे जिनपर Tax पहले ही दिया जाता है Retired के बाद भी Tax लगाया जाता है.

यह थे एनपीएस अकाउंट के फायदे और नुकसान जीने बारीकी से पढ़ना सभी के लिए हमेशा ही अच्छा होगा। अपना अधिकार जाने और सभी NPS Withdrawal Rules को ध्यानसे देखे यही फायदेमंद होता है।


National Pension Scheme Account Opening Process?

क्या आप जानते है एनपीएस में नया खाता कैसे खुलवाये? हमने यहापर How to open nps account online इसपर विस्तार से Process शामिल की है।

यदि आप National Pension Scheme में अपना Account Open करना चाहते हैं तो nps account opening के 3 रास्ते होते हैं।

  • पहला तरीका POP-SP यानी कि Point of Present Service Provider जिसका मतलब यह होता है कि आप किसी भी Bank Branch या फिर अपने Post Office में जाकर के यह National Pension Scheme Account ओपन करा सकते हैं।
  • दूसरा तरीका यह है कि आप इस enps.nsdl.com Website पर जाकर के अपने Pan card तथा बैंक Account की Details दे करके PNS New Account open कर सकते हैं।
  • तीसरा तरीका यह सिर्फ Maharashtra Government Employees के लिए जो Shalarth NPS Account खुलवा सकते है। यह योजना पहले DCPS के नाम से चलती थी जिसे बंद करके Shalarth Website के जरिये NPS Convert की गयी है।

जब भी National Pension Scheme का Account ओपन किया जाता है तब PRAN card दिया जाता है। PRAN की Full Form “Permanent Retirement Account Number” यह होता है, जो कि हर National Pension Scheme के Subscriber को दिया जाता है।

यह Card हासिल करने के लिए आपको एक Application डालनी होती है जिसे PRAN Application कहते हैं। इसके लिए आवेदक को KYC Doc देने होते हैं, और जब KYC पूरा हो जाता है तब यह कार्ड आपके घर या कार्यालय के पते पर भेज दिया जाता है।

यदि आप किसी बैंक की शाखा में जाकर या Post Office में जाकर के अपना National Pension Scheme Account open करवाते हैं तब आपको ज्यादा मेहनत करने की आवश्यकता नहीं होती है।

लेकिन यदि आप एक Website के माध्यम से अपनी National Pension Scheme Account को open करना चाहते हैं तो इसके लिए आप ऊपर दी गई Link का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसमें आपको अपने आधार authentication से इस Scheme के अंदर साइन अप कर लेना है और यदि आप चाहें तो इसी तरीके से का दूसरा तरीका इस्तेमाल करते हुए NPS Application Form भर सकते हैं और अपनी सारी जानकारियां तथा अपना Recent Photo भी इस Form पर लगा करके Submit करवा सकते हैं।

जब आप इस National Pension Scheme के लिए Registration करते हैं तब आपको सबसे पहले Minimum Contribution Amount ₹500 जमा करवाने होते हैं।


National Pension Scheme Tier-1 और Tier 2 क्या है?

NPS Accout Tier-1 एक Default Account है। तथा यह हर उस व्यक्ति के लिए mendatory है जो कि National Pension Scheme में Investment करना चाहता है।

इस Pension Scheme के अंतर्गत आपको 8% से लेकर के 10% तक का सालाना रिजल्ट प्राप्त हो सकता है। इसमें आपके ₹200000 तक के Profit के ऊपर कोई भी Tax नहीं लिया जाता है।

National Pension Scheme Tier-2 National Pension Scheme का ही एक दूसरा Account है, जिसमें National Pension Scheme tier-1 की तरह किसी भी प्रकार का Tax Benifit नहीं दिया जाता है।

लेकिन साथ ही इसी में किसी भी प्रकार का Profit या फिर Investment Limit तय नहीं किया गया है। इसमें आप Unlimited Amount भी Investment कर सकते हैं।

तथा इसी के साथ में जितना भी Profit आपको इसमें मिलेगा वह पूर्ण रुप से Taxable होगा यानी किस पर Tax लिया जाएगा।

एक तरीके से National Pension Scheme Tier-2 साधारण Investment Scheme की तरह ही है, जिसमें आप किसी भी प्रकार का Investment कर सकते हैं, और कितना भी Investment कर सकते हैं।

लेकिन जब आपको इसमें Profit मिलेगा तब वह पूर्ण रुप से Taxable होगा।

National Pension Scheme Tier-2 Account Benefits.
  • National Pension Scheme Tier-2 Account एक वॉलंटरी Account है, जिसमें कोई भी व्यक्ति हिस्सा ले सकता है। और एक Financial Year में एक changing Amount को जमा करा सकता है, जो कि ₹250 से ज्यादा की होती है।
  • NPS Tier-2 Account को ओपन करना बहुत ही ज्यादा आसान है। इसे POP या फिर E-NPS Method से open किया जा सकता है।
  • यह बहुत ज्यादा flexible भी है जिसमें कोई भी subscribe और अपने Investment option को खुद चुन सकता है।
  • Tier-2 Account का कोई भी Lock-in पीरियड नहीं होता है लेकिन फिर भी यदि कोई Government वॉइस में Investment करता है तो उसे 3 साल का Lock-in पीरियड दिया जाता है।
  • Tier-2 Account में से पूरा का पूरा पैसा एक साथ निकाला जा सकता है, या फिर अलग-अलग हिस्सों में भी निकाला जा सकता है।
  • Tier-2 Account को अब Tier-1 Account में Transfer भी किया जा सकता है। तथा यह एक portable Account है, जिसे आप यदि अपना शहर बदल लेते हैं तो भी आसानी से ऑपरेट कर सकते हैं।

National Pension Scheme के Tier-1 Account और Tier-2 Account में क्या अंतर है?

NPS Tier 1 Vs Tier Difference होता है जिन्हें हमने निचे विस्तार से समझाने की कोशिश की है

  • National Pension Scheme का Tier-1 Account डिफॉल्ट Account है। यानी कि जो भी व्यक्ति नेशनल पेमेंट करना चाहता है वह साधारण रूप से इसी Tier-1 Account में Invest करेगा इसके विपरीत National Pension Scheme Tier-2 का Account एक वॉलंटरी Account है। यानी कि एक व्यक्ति यदि चाहे तो अपनी मर्जी से इस Account में Investment कर सकता है अन्यथा ना भी करे तो जरूरी नहीं।
  • National Pension Scheme Tier-1 Account में एक साथ पूरी Amount नहीं निकाली जा सकती है, जबकि National Pension Scheme के Tier-2 Account में पूरी Amount एक साथ निकाली जा सकती है।
  • National Pension Scheme Tier-1 Account में ₹200000 तक का मुनाफा पूर्ण रूप से Tax फ्री होता है। जबकि Tier-2 Account में Government कॉलेज के लिए ₹150000 तक का मुनाफा Tax फ्री होता है। बाकी सभी लोगों के लिए इसमें हर Profit के ऊपर आपको Tax देना होगा।
NPS Tier 1 Vs Tier Comparision
  • National Pension Scheme वन Account में Minimum Contribution ₹500 तथा ₹1000 सालाना का करना जरूरी है। तथा National Pension Scheme Tier-2 Account में ₹250 सालाना Investment करना जरूरी होता है।
  • National Pension Scheme दोनों Account में Unlimited Amount का Maximum Contribution किया जा सकता है।
NPS Account Age Limit कितनी है?

यदि आप भी National Pension Scheme में Investment करना चाहते हैं तो आप की उम्र 18 वर्ष से लेकर के 61 वर्ष तक की हो सकती है।

यदि आपकी आयु 61 वर्ष से ज्यादा की है तो आप National Pension Scheme में Investment नहीं कर सकेंगे। पैसे निकालने के लिए आपकी आयु 70 वर्ष की भी हो सकती है।

NPS के नियम क्या है?

एक Government एंप्लोई अपने NPS Account का 60% तक का हिस्सा एक बार में निकाल सकता है, लेकिन 40% तक का हिस्सा अपने NPS Account में रखना जरूरी होता है। 70 वर्ष की आयु पार करने के बाद में वह व्यक्ति अपना बचा हुआ 40% तक का हिसाब आसानी से निकाल सकता है।
यदि 60 वर्ष की आयु तक कुल जमा करी गई राशि ₹200000 से कम की है, तो व्यक्ति आसानी से अपनी पूरी राशि को एक साथ निकाल सकता है।
यदि NPS Account Holder की मृत्यु हो जाती है तो जो भी व्यक्ति उसके नॉमिनी के रूप में दर्ज होता है, उसे वह पूरी राशि एक साथ दे दी जाती है।

NPS Returns कितना मिलेगा?

National Pension Scheme के अंतर्गत आपको 8% से 10% तक का सालाना Return मिल सकता है, जोकि Tier-1 Account में ₹200000 तक के लिए बिल्कुल Tax फ्री होगा।

National Pension Scheme के withdrawal rule क्या है?

National Pension Scheme वैसे अपना पैसा निकालने के कुछ नियम है, जिसके अंतर्गत यदि आप एक बड़ा Amount अपने Pension Account से बाहर निकालना चाहते हैं तो आपको कम से कम 40% तक का कुल हिस्सा अपने National Pension Account में रखे रहना जरूरी है।

बाकी 60% तक का हिस्सा आप एक साथ निकाल सकते हैं, जो कि पूर्ण रूप से Tax फ्री होगा। लेकिन सबसे नई खबर के अनुसार ऐसा कहा जा रहा है कि Government ने पूरी की पूरी National Pension Scheme की withdrawl को Tax फ्री कर दिया है।

NPS Disadvantages क्या है?
  • पुरानी Pension Scheme की तुलना में इसमें फायदे कम मिलते हैं। इसमें Withdrawal की Limit रखी गई है यानी कि एक व्यक्ति अपनी पूरी टीम की ओर में केवल 3 बार ही पैसे निकाल सकता है।
  • NPS Withdrawal के समय 60% तक Investment पर Tax लगता है, तो 40% का Tax फ्री रहता है।
  • एक व्यक्ति केवल एक ही National Pension Scheme का Account ओपन कर सकता है। एक Subscribe और अपने कुल Investment के 50% से ज्यादा का Amount Invest नहीं कर सकता।इसमें Return मिलने की कोई गारंटी नहीं है।
  • NPS Withdrawal Form कैसे भरे?

    National Pension Scheme के अंतर्गत यदि आप अपनी Lump sum Amount निकालना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको एक Withdrawal Form की आवश्यकता पड़ेगी।
    विड्रोल Form प्राप्त करने के लिए आप अपने पास ही के बैंक शाखा में जा सकते हैं, या फिर Post Office में भी जा सकते हैं।

    यदि आप चाहें तो NPSCRA Website का इस्तेमाल करते हुए NPS Withdrawal Form को डाउनलोड कर सकते हैं और इसका प्रिंटआउट लेकर के और Form को भर कर के अपने नजदीकी बैंक शाखा या फिर Post Office में जमा करवा सकते हैं।

    NPS Form Download कैसे करे?

    यदि आप National Pension Scheme को एक form के द्वारा भरना चाहते हैं, तो आप NPCRA का इस्तेमाल करते हुए NPS Form Download कर सकते हैं।
    तथा इसका प्रिंट आउट निकलवा कर इस Account को पूरी तरीके से भर करके इसे आप अपने नजदीकी बैंक ब्रांच या फिर Post Office में जमा करवा सकते हैं।
    यदि आप चाहें तो अपने पास ही के Post Office या फिर बैंक शाखा में जाकर के भी इस Form को वहां से ले सकते हैं।

    हमें लगता है अब आपको National Pension System की पूरी जानकारी मिल चुकी होंगी। हमें बताये आपको NPS Full Information In Hindi कैसी लगी? क्या आपने एनपीएस मे Invest किया है? सही चुने और सही जगह अपने पैसे लगाये.