बिजली की दरे ज्यादा आना अब आम बात हो चली है. इसी के चलते बिना electricity bill unit calculate किये अब लाइट बिल नहीं भरे तो अच्छा है.

कई consumers अपने बिजली के बिल को कैसे कम करे इस बात से ग्रस्त दिखाई देते है. क्या आपने अपने कार्यालय या फिर घर के बिजली बिल यूनिट दर की जाँच की है?

electricity bill unit rates kaise nikale
electricity bill unit rates kaise nikale

इस आर्टिकल मे light bill unit calculate की जानकारी सिर्फ home users याने LT 1 ग्राहकों के लिए electricity bill unit checking की जानकारी दी जाएगी.

जल्दी ही आने वाली post भी Offices/Business consumers के लिए भी अपने कार्यालयों की इलेक्ट्रिसिटी यूनिट दर कैसे check करे इसकी जानकारी provide करेंगे.

लाइट बिल यूनिट कैसे check करे?

बिजली बचाओ स्लोगन कहा तक काम करेगा अगर आप ही अपने घर के energy bill की ठीक से जाँच नहीं करते.क्या आपने अपना recent light bill चेक किया है?

अगर किया है तो अभी अपने इलेक्ट्रिसिटी बिल को निकालिए और यह जानने और समझने की कोशिश करे की आखिर आपके घर मे चलने वाले devices के लिए बिजली बिल पर ऊर्जा शुल्क क्या लग रहा है?

अगर आपने इसपर गौर किया होगा तो आप जान पाएंगे लाइट बिल मे कितना उतार-चढाव दीखता है. अगर आपके इलेक्ट्रिसिटी शुल्क मे इजाफा हो रहा है तो जरुर देखे क्या है मसला, क्योंकि electricity bill calculation करना सबसे जटिल लगता है.

यदि आप बिजली बिल की गणना नहीं कर पा रहे है तो कोई बात नहीं आपको यहा से electricity bill की गणना कैसे करते है यह बताया जायेगा. हमे पता है आप इसी बिजली बिल की गणना समजने के लिए इस post पर आये है.

आपने ज्यादा searches किये है तो आपने ऑनलाइन बिजली बिल कैलकुलेटर का भी जरुर इस्तेमाल किया होगा. लेकिन अच्छा होगा अगर ऑफलाइन इस process को समज लिया जाए. बिजली के शुल्क मे अलग-अलग दरे लगाकर दिए जाते है जिसमे निर्धारित शुल्क और अन्य किराए तो होते ही है.

Electricity Bill Calculate कैसे करते है – How To Calculate Your Electricity Bill Unit?

आपको पता ही होगा की हर consumer के बिल मे जो unit दिखाई जाते है वह kwh याने kilowatt hour मे calculate किये जाते है. याने की आपके घर या कार्यालय मे जो बिजली की खपत होती है वह kWh आपके बिजली मीटर मे display की जाई है.

मीटर रीडिंग की गणना हर राज्यों के लिए अलग-अलग हो सकती है, जैसे महाराष्ट्र राज्य की हर महीने के 20-25 तारीख के बिच reading लेना और अन्य राज्यों के बिच दुसरे या तीसरे महीने मे मीटर रीडिंग लेना.

अपने घर के connection के लाइट कनेक्टेड लोड का calculation की जाती है, इसीलिए अपने मीटर को check करते रहे की वह सही तरह से काम भी करता है या नहीं.

यह जरुरी हैं, क्योंकि जब कोई भी consumer अपने घर में नया Electricity Connection लेता है, तब आपने इस अपनी इच्छा से ख़राब मीटर नहीं चुना हुवा होता है.

क्या पता कब मीटर ख़राब हो जाए और हद से ज्यादा बिल इलेक्ट्रिक विद्युत कंपनी के इंजीनियरों द्वारा आपको भेज दिया जाए. कभी-कभी इसमें उतार देखने को मिलता है लेकिन चढ़ाव चलता ही रहता है.

निचे दिए गए unit rates अनुसार Maharashtra मे light bill charges आपके बिल मे unit के हिसाब से add किये जाते है. यही units आने वाले महीने मे new units से घटाए जाते है जिससे consumer के पिछले मीटर रीडिंग घटकर नए यूनिट पता चलते है.

अब आप घर बैठे ही जान सकेंगे बिजली बिल का पूरा हिसाब-किताब. बिजली के बिल मे निर्धारित शुल्क लगाकर हमे ठग भी लिया जाता है लेकिन पता ही चल पाता आखिर कहा पर mistake हो रही है. जानिए कैसे बिजली बिल की गणना के लिए सूत्र काम करता है.

बिजली का बिल चेक करना है कैसे करे – बिजली के बिल टैरिफ की गणना करना सीखे. 

बिजली यूनिट रेट के बारे मे पहले आपको पता होना चाहिए. जैसा की हमने ऊपर भी बताया है लाइट बिल मे निर्धारित शुल्क सभी राज्यों के लिए अलग-अलग है वह पहले जांच ले. बिजली अमूल्य है बिजली बचाओ देश बचाओ.

अपने घर मे या कार्यालयों मे अमाप इस्तेमाल होनी वाली क्षमता को घटाए और बिजली के भार को कम करे. अच्छे products का इस्तेमाल करे जिससे आपके घर के electricity connection पर कम भार पढ़ता है.

जैसे ही load कम होगा अपने आप ही आपका light bill कम हो जायेगा. साथ ही led lights का इस्तेमाल करे जो कम वैट मे भी ज्यादा लाइट देते है. जो उपकरण यहा पर इस्तेमाल किये जाते है उनपर निर्धारित की गयी शुल्क भी वसूला जाता है.

कभी-कभी आपके राज्य से बिजली वितरक कंपनी की तरफ से reading लेने जो आदमी आता है उनसे संपर्क बनाये रखे. क्योकि किसी महीने वह नहीं आता है और आपके लिए वास्तविक इलेक्ट्रिसिटी की खपत से ज्यादा बिल थमा दिया जाता है तो तुरंत इसकी शिकायत राज्य विद्युत्या वितरण company से करे.

इलेक्ट्रीसिटी बिल मे ऊर्जा प्रभार, फिक्स्ड चार्ज, विद्युत शुल्क और उसपर नियम अनुसार टैक्स, मीटर किराया, इंधन समायोजित शुल्क, बिजली विक्री कर आदि. चलिए अब देखते है बिजली बिल कैलकुलेटर से unit की गणना कैसे करते है.

ज्यादा जानकारी के लिए www.cspdcl.co.in इस वेबसाइट पर विजिट कीजिये. because अगर छत्तीसगढ़ electricity bill units calculate करने मे आपको परेशानी होती है तो ऑनलाइन लाइट बिल कैलकुलेटर से सहायता मिलेगी.

Electricity Bill Unit Calculate करने के लिए सूत्र.

सभी consumers पहले अपने राज्य की कोई एक बिल को देखे जहा अपने-अपने राज्यों में लगाये जाने वाले विद्युत बिल पर जो unit दरे लगाई जाती है उपसर कितना बिल दिया जाता है.

अपने घर का या फिर कार्यालयों का electricity bill unit nikalne ka formula पता होना चाहिए. निचे महाराष्ट्र राज्य के लाइट बिल की जानकारी दी गयी है.

 

SNUnitsLight Bill Unit Rates
1 Up to 0-1003.00
2101-3006.73
3301-5009.75
4501-100010.50
5Above 100011.50

ऊपर दिए गए units अनुसार आप अपने राज्य की बिजली बिल की गणना आसानी से कर सकते है. जब One kilowatt power लगातार एक घंटे तक इस्तेमालहोती है तो उसका माप एक यूनिट का बनता है.

यदि कही पर आधा किलोवाट खपत 2 घंटे तक प्रयोग होती है तो भी एक यूनिट बिल बनता है. या फिर 2 किलो वाट इलेक्ट्रिसिटी आधा घंटा इस्तेमाल होती है भी तब एक यूनिट बिजली ख़र्च होती है एसा मान सकते है.

electricity bill unit rate इसी सूत्र पर काम करता है जैसे यूनिट= किलोवाट- घंटा और यूनिट/ऊर्जा = शक्तिxसमय. इसप्रकार सभी consumer अपने लाइट बिल का calculation कर सकते है. अपने आप मे सक्षम बने और and इलेक्ट्रिसिटी बिल खुद कैलकुलेट करे बिना किसी की सहायता किये.

बिजली बिल की गणना करना सही है?

आप भी चेक करे सही बिजली बिल यूनिट दर कैलकुलेटर जो बचाए आपको आर्थिक नुकसान से. पैसो का बचाव करने के लिए होशियारी करनी ही पढेगी.

Bijli Bill unit kaise nikale?

बिजली का बिल यूनिट निकालने के लिए सूत्र दिया गया है उसका इस्तेमाल करके आसानी से समजाते है 1 यूनिट का मतलब 1kWh होता है.

महीने के 30 दिन और 1 दिन का 24 Hours के इस्तेमाल अनुसार “30*24*1000kwh=72000 Watts

अब इसे हमें यूनिट में निकालना है तो कैसे निकालेंगे? बहुत आसान है सिर्फ ऊपर दिए गए Rates को देखे. जैसे की आपको जानकारी होनी चाहिए 1 यूनिट का मतलब 1kWh होता है तो इसके अनुसार आपके उर्जा की खपत “72000/1000=720 Units

तो आपका बिजली बिल यूनिट 500-1050 इस बिच आता है तो Rate ऊपर दिए अनुसार 10.50 होना चाहिए तो “720*10.50=7560/-” रुपये का बिल आपको दिया जाएगा. इस प्रकार से इलेक्ट्रिक यूटिलिटी बिल गणना करने का सूत्र काम करता है.

बिजली बिल की कुल लागत सभी राज्यों में एक जैसी है?

जी नहीं, यह हर राज्य के लिए अलग-अलग हो सकती है. ऊपर दिए गए यूनिट दर यह महाराष्ट्र राज्य के है अन्य राज्यों के rates electricity bill unit के लिए अलग है. इसीलिए बिजली के खर्च से बचने के लिए यूनिट दर की जाँच जरुर करे.

We hope अब आप बिजली का बिल चेक करना सिख गए होंगे. हमे बताये electricity bill unit rates निकालने मे आपको क्या सहायता मिली या परेशानी हुयी.

ऑनलाइन बिजली बिल calculation भी आप कर सकते है इसके लिए कई web आपकी सहायता करेंगे. आप चाहे तो bijlibachao का भी इस्तेमाल कर सकते है. हमें बताये कैसी लगी आपको हमारी electricity bill unit कैसे निकाले यह पोस्ट इससे हमें Motivation और Suggestions मिलते है.

***