Domicile Certificate का क्या महत्त्व है ! निवास सर्टिफिकेट (डोमिसाईल प्रमाणपत्र) कैसे बनवाये.

Last updated on May 8th, 2018 at 07:33 am

आज के इस आर्टिकल मे हम आपको विस्तार से बताएँगे की आखिर ऑनलाइन डोमिसाइल सर्टिफिकेट अप्लाई करने पर कितना खर्चा आता है और ऑफलाइन निवास सर्टिफिकेट अप्लाई करने पर कितना खर्चा होता है और यह दोनों तरीको से किस तरह बनाया जा सकता है.

डोमिसाइल का मतलब क्या है ! Domicile Certificate Kya Hai?

डोमिसाइल का मतलब निवास प्रमाणपत्र भी होता है. Domicile Certificate Meaning ही निवास सर्टिफिकेट भी होता है.

डोमिसाइल सर्टिफिकेट महाराष्ट्र के लिए हो या चाहे किसी अन्य राज्यों के लिए सबके लिए उतना ही महत्वपूर्ण कहलाता है. हर कोई ऑफलाइन प्रमाणपत्र बनाने की भागदौड से बचने के लिए Domicile Certificate Online बनवाना चाहता है.

पर क्या Residential Certificate Online बनाया जा सकता है? अगर किया जा सकता है तो प्राप्त होने के लिए कितना समय लगता है Domicile Certificate ऑनलाइन बनाने पर? इस तरह के कई सवाल छात्रो और उनके पेरेंट्स को सताते है. 

> Read – Caste Certificate ऑनलाइन कैसे बनाते और कौनसे डॉक्यूमेंटस आवश्यक है?

  1. Address Proof डॉक्यूमेंटस.
  2. एप्लीकेशन फीस (25-32 रुपये).

निवास प्रमाणपत्र बनवाने के लिए आप जिस District में रहते हैं वही के निवासी होने चाहिए तभी आप आवेदन कर सकते है. इसके साथ ही हर एक आवेदक को अपने राशन कार्ड, आधार कार्ड अथवा वोटर कार्ड की स्कैन कॉपी लगानी पड़ेगी.

सबसे जरुरी बात ध्यान रखे की आपके द्वारा दिए गए डॉक्युमेंट्स में मौजूद पता जिस जिले का हो उसी जिले से आप अपना डॉमिसाइल सर्टिफिकेट बनवा सकते है. कई बार हमसे प्रश्न पुछे जाते है की हम दो जगह से अलग-अलग निवास प्रमाणपत्र बना सकते है? तो स्पष्ट रूप से जान ले यह गुनाह माना जाता है.

अगर आप डॉमिसाइल सर्टिफिकेट दो जगह से बनवाते हैं तो आप को भारतीय संविधान के अनुसार कानूनन सजा हो सकती है. इसलिये भूलकर भी Domicile Certificate को दो अलग-अलग राज्यों से बनवाने की कोशिश ना करें.

  1. Court Fee Stamp. (20 रुपये).
  2. Affidavit (अगर ऑफलाइन एप्लीकेशन हो तो जरुरी है).
  3. एड्रेस प्रूफ (कोई भी एक जो निचे दिए गए है).
  4. डोमिसाइल सर्टिफिकेट फीस (60 रुपये एफिडेविट फोटो खीचने के साथ).

– Domicile Certificate Responsible Authority Name.

ध्यान रहे निचे दिखाई गए दोनों अथॉरिटी सिर्फ ऑनलाइन सर्टिफिकेट के लिए है. अगर आप ऑफलाइन अथॉरिटी के बारे मे जानकारी चाहते है तो निचे दिए गए पॉइंट्स की जानकारी पढ़े.

  1. Assistant Block Development Officer.
  2. Block Development Officer.

Domicile Certificate Importance.

डोमिसाइल का एजुकेशन के लिए बेहद काम का होता है. यह सभी छात्रो के लिए जरूरी है जो किसी भी डिग्री, डिप्लोमा, इंजिनीअरिंग या कोई भी प्रोफेशनल कोर्स के लिए एडमिशन लेना चाहते है. इसके बिना आपका Centralized Admission Process (Cap Round) के लिए विचार नहीं किया जाएगा.

इतना ही नही बल्कि Government Medical Colleges के लिए भी Domicile Certificate बहुत ही जरुरी डाक्यूमेंट्स है. निवास स्थान प्रमाण पत्र प्रस्तुत करने के लिए उस समय किसी के भी पास इतना वक़्त नही होता की अधिवास प्रमाण पत्र जल्दी से बनवा ले.

omicile Letter Sample देखने के लिए आप चाहे तो देख सकते है.

Domicile Certificate Online कैसे बनाये?

जैसा हमने माइग्रेशन सर्टिफिकेट बनाने के बारे मे जानकारी दी है बस उसी प्रकार से आप ऑनलाइन अधिवास सर्टिफिकेट बना सकते है. पर उसके बाद आपको कम से कम 21 दिन तक राह देखनी होगी.

क्योकि Domicile Certificate Online Application की समय सीमा ही इतनी रखी गयी हैं. 21 दिन के भीतर ऊपर दिए गए रिस्पोंसिबल और्थोरिटी को ऑनलाइन डोमेसाइल सर्टिफिकेट अपलोड करना होता है जिसे आप डाउनलोड कर सकते है.

  1. अपने राज्य की ऑफिसियल आपले सरकार पोर्टल पर विजिट करे (उदाहरण के लिए माइग्रेशन की ऊपर दी पोस्ट देखिये).
  2. Domicile Certificate Online अप्लाई करने के लिए नया खाता बनाये.
  3. लॉग इन होने पर सर्च बार मे डोमिसाइल सर्च करे.
  4. डोमिसाइल सर्टिफिकेट रिजल्ट निचे दिखाई देगा वह चुने.
  5. Online Domicile Certificate Form मे पूरी जानकारी एकदम सही दर्ज करे.
  6. Adhivas Certificate Online Payment करिए.
  7. That’s its बस हो गया.

अगर आप ऑफलाइन अधिवास प्रमाणपत्र बनाना चाहते है तो किसी भी नजदीकी सेतु / इ-सेवा कार्यालय (E District Certificate Office) मे विजिट करे जहा Sub-Divisional Magistrate/Tehsildar’s office/Revenue Department/District Collector’s Office की देखरेख मे आपको Residential Certificate प्रधान किया जाता है.

वैसे तो उनके पास सभी प्रकार के फॉर्म्स उपलब्ध होते है लेकिन फिर भी अगर किसी समस्या की वजह से प्राप्त न हो तो Domicile Certificate Form Download इन्टरनेट से भी कर सकते है.

> Read – आय (इनकम) सर्टिफिकेट कैसे बनाया जाता है.
> Read – जन्म प्रमाणपत्र (Birth Certificate) कैसे बनाया जाता है.

इस प्रकार से अब आप जान गए होंगे की Domicile Certificate कैसे बनाये और अधिवास प्रमाणपत्र का क्या महत्त्व है. आशा करते है आपके लिए यह पोस्ट काम की साबित हुयी हो. किसी भी प्रकार के Education से जुडी सहायता के लिए ब्लॉग को सब्सक्राइब करे तथा इस पोस्ट को सोशल मीडिया मे शेयर करे जिससे जरुरी छात्रो तक इसका फायदा मिल सके.

***************

Waw ! Love This Post!

If You Like This Article Please Subscribe And Share On Social Media.

Comments

  1. By Gaurav Chauhan

    Reply

  2. By Sandeep

    Reply

    • Reply

  3. By shivam sharma

    Reply

  4. By Kahkashan

    Reply

    • Reply

  5. By Deepu

    Reply

  6. By amarjeet gurjar

    Reply

    • Reply

  7. By Neeraj kumar

    Reply

    • Reply

  8. By rajesh kumari

    Reply

    • Reply

  9. By Shahid

    Reply

    • Reply

  10. By Pradeep Rasal

    Reply

  11. By Rajen kandulna

    Reply

  12. By Shruti

    Reply

  13. By Sachin

    Reply

    • Reply

  14. By Rubi Kumari Roy

    Reply

    • Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *