Non Creamy Layer Certificate Online Apply कैसे करे ! Difference Between Creamy-Layer & Non-Creamy Layer ! नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया.

8
499

एक छात्र को Non Creamy Layer Certificate की क्या कीमत होती है यह वही समज सकता है. Non-Creamy Layer Certificate ना सिर्फ एडमिशन के लिए काम आता है, बल्कि जो Candidates छात्रवृत्ती के लिए अप्लाई करते है उनके लिए भी बेहद महत्वपूर्ण दस्तावेज माना जाता है.

Non Creamy Layer Certificate Online Apply कैसे करे ! Difference Between Creamy-Layer & Non-Creamy Layer ! नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र बनाने की प्रक्रिया. 1

नॉन क्रीमी लेयर सर्टिफिकेट सभी छात्रो के लिए आवश्यक नहीं होता है बल्कि जिन उमीदवारो को रिजर्वेशन कोटा में किसी संस्थान या कॉलेज में प्रवेश लेना होता है या फिर एडमिशन के बाद Scholarship Benefit प्राप्त करना होता है तब VJNT/DT/SBC/OBC स्टूडेंट्स के लिए Mandatory होता है.

इतना ही नहीं बल्कि Job, Election etc जगह पर रिजर्वेशन कोटा का फायदा लेना होता है तब भी नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र की जरुरत पढ़ती है.

अब आप समज चुके होंगे की OBC Non Creamy Layer Certificate किस काम में ज्यादातर इस्तेमाल होता है. चलिए अब देखते है इसका मतलब क्या होता है?

Non Creamy Layer Meaning In Hindi.

ओबीसी केटेगरी को दो श्रेणी मे बाटा गया है पहला OBC NonCreamy Layer और दूसरा OBC Creamy Layer मे लिया गया है. मतलब यदि किसी माता-पिता की एक साल की Income (सालाना आय) 8 लाख तक की है, तो वह नॉन क्रीमी लेयर रिजर्वेशन मे गिना जाता है.

परन्तु किसी माता-पिता या उमीदवार की वार्षिक आय रुपये 8 लाख से ज्यादा है तो वह क्रीमी लेयर केटेगरी मे आते है जिनके लिए रिजर्वेशन में मिलने वाले लाभ नही मिलते.

क्रीमी लाएर और Non-Creamy Layer यह भारतीय परंपरा में इस्तेमाल किया जाने वाले मिलते जुलते शब्द है जो अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) के अपेक्षाकृत आगे और बेहतर शिक्षित सदस्यों को Refer करती है जो Government-sponsored educational & Professional benefit programs के योग्य नहीं हैं.

यह शब्द सन 1971 में सट्टानाथन आयोग द्वारा पेश किया गया था, जिसमें निर्देश दिया गया था कि “Creamy Layer” को आरक्षण (आरक्षित कोटा) से बाहर रखा जाना चाहिए. तब से लेकर आज तक यह चला आ रहा है.

तो Non Creamy Layer का मतलब है की आप एक पिछड़े जाती के रिज़र्व केटेगरी मे आते है जिसे सेवाओ का लाभ देना चाहिए जो क्रीमी लेयर को नहीं मिलते.

> जरुर पढ़े – Migration Certificate क्या है? कैसे बनाया जाता है माइग्रेशन सर्टिफिकेट !

OBC Non Creamy Layer Criteria ! Non Creamy Layer Income Limit.

Other Backward Class Non Creamy Layer Certificate Criteria है की किसी भी लोगो को आरक्षित लेवल में मापना है तो उनका सालाना इनकम 8 लाख से कम होना आवश्यक है. अगर मर्यादा 8 लाख से ज्यादा है तो वह क्रीमी लेयर मे देखा जायेगा और उन्हें आरक्षण पद या लाभ का फायदा नहीं दिया जायेगा.

यही नही इनकम लिमिट के अलावा नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र के लिए और एक main criteria ध्यान में रखा जाता है. यदि आवेदक जो एप्लीकेशन करना चाहते है उनके माता-पिता किसी एसी सरकारी संस्थान, सरकारी नौकरी मे claas 1, class 2 officers पद पर work कर रहे है तो उन्हें क्रीमी लेयर मे लिया जाता है.

नॉन क्रीमी लेयर 1971 से लेकर 2004 तक रुपये 1 लाख था जिसे बढाकर 2004 मे  2.5 लाख कर दिया गया. बाद मे 2008 मे इसकी मर्यादा रुपये 4.5 लाख कर दी गयी और अब हाल ही मे 2017 से Non-Creamy Layer Limit बढ़कर 8 लाख रुपये कर दी गयी है. अगर आपको

Difference Between Creamy And Non Creamy Layer.

OBC Creamy Layer मे पारिवारिक सालाना इनकम रुपये 8 लाख से ज्यादा होनेपर, उमीदवार की पिता/पेरेंट्स किसी भी Government Sector मे Class 3 से बड़े पद पर Job करते है तो वह क्रीमी लेयर मे आते है.

और इसके विपरीत जिनके  माता-पिता की वार्षिक आय 8 लाख से कम है और वह Class 3 से भी छोटे पद पर काम कर रहे है तो वह OBC NonCreamyLayer मे आयेंगे.

तो यह है फर्क क्रीमी लेयर और नॉन क्रीमी लेयर मे. जब भी आप इन दस्तावेजो को बनाते है तो अपने आप ही ऊपर दिए गए Non Creamy Layer Eligibility को देखते हुए आपको सर्टिफिकेट प्रधान कर दिया जाता है.

Non Creamy Layer Certificate Required Documents List In Hindi.

Non-Creamy Layer Certificate बनाने के लिए सबसे पहले आपको निचे दिए गए डाक्यूमेंट्स को एकत्रित करना होगा जिसके बाद 15-31 दिन के भीतर नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र प्राप्त होता है.

  • Passport size Photo,
  • Application Form,
  • Income Certificate तीन साल का होना चाहिए (Tahsildar/Sub Divisional Officer),
  • Caste Certificate (As Per D Format),
  • Identity Proof (Aadhar Card/Election Card etc),
  • Address Proof (Ration Card/Pan Card etc),
  • Affidavit.
Online Non Creamy Layer Certificate कैसे बनाये?

नॉन क्रीमी लेयर ऑनलाइन भी बनाया जा सकता है, लेकिन हम आपको यह प्रक्रिया नहीं Suggest करना चाहते. क्योकि जीतनी जल्दी ऑफलाइन एप्लीकेशन करने पर यह सर्टिफिकेट मिल जाता है उतनी जल्दी ऑनलाइन मे नहीं बनेगा. फिर भी अगर आप चाहते है तो हम आपके लिए यह प्रक्रिया बता देते है.

  1. Non Creamy Layer Certificate Online Apply करने के लिए अपने राज्य की गवर्नमेंट पोर्टल पर विजिट कीजिये,
  2. नया खाता बनाने के लिए New Registration कीजिये,
  3. लॉग इन बन जाने पर Login कीजिये,
  4. लिस्ट में Non-Creamy Layer Certificate चुनिए,
  5. Apply पर क्लिक करना होगा,
  6. आवेदक का नाम, पता जैसी जरुरी जानकारी भरिये,
  7. ऊपर दिए गए डाक्यूमेंट्स अपलोड कीजिये,
  8. Submit बटन दबाकर एप्लीकेशन सबमिट कीजिये,
  9. सर्टिफिकेट फी पेमेंट करिए,
  10. Acknowledgement Print करिए.

इस प्रकार से नॉन क्रीमी लेयर ऑनलाइन एप्लीकेशन करने पर 21 दिन की समय सीमा होती है. जब 21 दिन बित जायेंगे एप्लीकेशन लॉग इन करके सर्टिफिकेट डाउनलोड कर सकते है.

नॉन क्रीमी लेयर सर्टिफिकेट कैसे बनाये?

ऊपर आपने देखा की किस प्रकार से ऑनलाइन एप्लीकेशन नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र के लिए कर सकते है, चलिए अब देखते है Offline Non Creamy Layer Certificate Application कैसे करते है.

  1. सबसे पहले अपने पास के Maha E-Seva/Tahsildar Office पर विजिट करिए,
  2. Non Creamy Layer Application Form प्राप्त कीजिये,
  3. एप्लीकेशन फॉर्म को ध्यानपूर्वक और पूरा भरिये,
  4. फोटो लगाइए,
  5. एफिडेविट कीजिये जो वही पर दिया जाता है,
  6. ऊपर दिए गए सभी जरुरी दस्तावेज जोडीये,
  7. नॉन क्रीमी लेयर प्रमाणपत्र फी भरिये.

इस प्रकार से एप्लीकेशन भरने के बाद फीस भरने के बाद जहा आपने फॉर्म जमा किया है वहापर Acknowledgement Receipt दी जायेगा जिसपर कम सर्टिफिकेट मिलेगा वह तारीख दी जाएगी.

जो तारीख दी गयी है उस समय पर फिर से विजिट करके अपना नॉन-क्रीमी लेयर प्राप्त कर सकते है. यदि आपको इसके बारे में और अधिक जानकारी चाहिए तो अवश्य पढ़े How To Get Non-creamy layer certificate in maharashtra Online source url

अगर आप मराठा candidate है तो आपको भी अब नॉन क्रीमी लेयर बनवाना जरुरी है. ऊपर विडिओ मे बताया गया है की maratha caste non-creamy layer certificate कैसे बनाये और क्या फर्क होता है इसमें.

तो इस प्रकार से अब आप जान गए होंगे की Non Creamy Layer Certificate Application कैसे करना है, और नॉन क्रीमी लेयर सर्टिफिकेट के लिए कौनसे डॉक्यूमेंट लगते है. आशा करते है आपको Non-Creamy Layer कैसे बनाते है यह जानकारी पसंद आयी होगी. इसी प्रकार के सभी अपडेट सबसे पहले पाने के लिए ब्लॉग को Subscribe करे और पोस्ट को सोशल मीडिया मे शेयर करना ना भूले.

***

8 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here