Computer Software क्या है ! कंप्यूटर सॉफ्टवेर की जानकारी ! Types Of Computer Softwares.

क्या आप जानते है एक PC या डिवाइस मे Computer Software का क्या मतलब होता है. क्या आप जानते है कौनसे होते है वह सॉफ्टवेअर्स जिसका इस्तेमाल हम हररोज करते है. एक कंप्यूटर सिस्टम अनेक Units का एक Group होता है, एक या अनेक लक्ष्यों की प्राप्ति हेतु बनाया जाता है. उदाहरण के तौर पर Laboratory भी एक Computer System है, जिसका लक्ष विविध प्रकार के Research करना है तथा जिसके अनेक ग्रुप, Scientific researchers and scientific instruments आदि है.

Computer Software Kya Hai In Hindi-min

Computer Software Kya Hai In Hindi.

इसी प्रकार कंप्यूटर भी एक सिस्टम है, जिसका लक्ष अलग-अलग प्रकार के कार्य करना है तथा जिसके ग्रुप्स Hardware तथा Computer Software है. आज के आर्टिकल मे आप जानेंगे Software Definition and Examples (कंप्यूटर सॉफ्टवेर टाइप) और उनकी विस्तार से जानकारी.

> जरुर पढ़े – Virus तथा Malware की जानकारी. Computer Virus से जुडी जरुरी जानकारी.

Software क्या है ? Softwares की जानकारी.

सॉफ्टवेर, Programming Languages मे लिखे गए Instructions मतलब प्रोग्रामो की वह श्रुंखला है, जो सिस्टम के कार्यो को Controlled करता है तथा कंप्यूटर के विभिन्न हार्डवेअरो के बिच Co-ordination स्थापित करता है, ताकि किसी विशेष कार्य को पूरा किया जा सके. इसका प्राथमिक उद्देश Data को Information मे Transfer करना होता है. Software Instructions के अनुसार ही हार्डवेयर काम करता है इसीको Group of Programs कहते है.

दुसरे शब्दों मे , Computers मे सैकड़ो की संख्या Programs होते है, जो अलग-अलग कार्यो के लिए लिखे या बनाये जाते है. इस सभी प्रोग्रामो के ग्रुप्स को सम्मिलित रूप से “Computer Software” या सॉफ्टवेर कहा जाता है यही होता है Computer Software Definition.

Types of Computer Software ! कंप्यूटर सॉफ्टवेर के प्रकार.

वैसे आपको सबसे पहले Types of software जान लेना आवश्यक है. सॉफ्टवेर को इसके कार्यो तथा Structure के आधार पर दो प्रमुख भागो मे Divide किया जाता है जो निचे दिए गए है.

  1. System Software.
  2. Application Software.

सिस्टम सॉफ्टवेर कंप्यूटर के Internal Works को Control करता है और एप्लीकेशन सॉफ्टवेर किसी विशेष कार्य को पूरा करने के लिए लिखे जाते है, बनाये जाते है.

1. सिस्टम सॉफ्टवेर.

जो Program कंप्यूटर को चलाने, उसको नियंत्रित करने, उसके विभिन्न भागो के देखभाल करने तथा उसकी क्षमताओ का अच्छे से इस्तेमाल करने के लिए लिखे जाते है, उनको सम्मिलित रूप से “System Software” भी कहा जाता है. नॉर्मली सिस्टम सॉफ्टवेर कंप्यूटर के निर्माता द्वारा ही उपलब्ध कराया जाता है.

वैसे यह बाद मे बाजार से ख़रीदा जा सकता है. कंप्यूटर से हमारा संपर्क या संवाद सिस्टम सॉफ्टवेर के माध्यम से ही हो पता है. दुसरे शब्दों मे Computer हमेशा System Software के Control मे रहता है, जिसकी वजह से हा सीधे कंप्यूटर से अपना संपर्क नहीं बना सकते. वास्तव मे सिस्टम सॉफ्टवेर के बिना computers से सीधा संपर्क Impossible है.

इसलिए सिस्टम सॉफ्टवेर इस्तेमाल करने वाले उपयोगकर्ता की सुविधा के लिए बनाया जाता है. Computer System Software मे हमें बहुत सुविधा हो जाती है, क्योकि वह कंप्यूटर को अपने नियंत्रण मे लेकर हमारे द्वारा बताये गए कामो को कराने तथा प्रोग्रामो को सही-सही पालन कराने के दायित्व अपने ऊपर ले आता है.

सिस्टम सॉफ्टवेर मे वह Programs शामिल होते है, जो Computer System को Control करते है और उसके Difference Computer Parts के बिच उचित तालमेल बनाकर कार्य करते है. हा जरुरी बात इसको भी कार्यो के आधार पर सिस्टम मैनेजमेंट प्रोग्राम और डेवलपिंग सॉफ्टवेर इन दो भागो मे विभाजित किया गया है.

  • System Management Program.

यह वह Programs होते है, जो System Management करने के काम आते है. इन प्रोग्राम्स का प्रमुख काम Input, Output तथा Memory Tips और Processor के  विभिन्न कामो का मैनेजमेंट करता है. इसके System Computer Software Programs के प्रमुख उदाहरण निचे दिए गए है.

  • Operating System,
  • Device Drivers,
  • System Utilities,
  • System Management Programs.

यह ऊपर दिए गए सभी System Computer Software Examples है. उनके बारे मे विस्तार से जानकारी पाने के लिए निचे दी गयी जानकारी को ध्यानपूर्वक और पूरा पढना बेहद जरुरी है.

Types Of Computer Software In Hindi

Types Of Computer Software In Hindi.

  • ऑपरेटिंग सिस्टम.

इसमें वह प्रोग्राम्स शामिल होते है जो कंप्यूटर के विभिन्न पार्ट्स उनमें समन्वय स्थापित करते हैं तथा उन्हें Manage करते हैं. इसका प्रमुख कार्य User तथा हार्डवेयर के बीच एक समन्वय स्थापित करना है. ऑपरेटिंग सिस्टम कुछ विशेष प्रोग्रामों का ऐसा व्यवस्थित समूह है, जो किसी कंप्यूटर के संपूर्ण Activities को कंट्रोल रखता है. यह कंप्यूटर उसके साधनों के उपयोग पर नजर रखने और उन्हें व्यवस्थित रखने में हमारी हेल्प करता है.

Operating System आवश्यक होने पर अन्य प्रोग्राम को चालू करता है, विशेष सेवाएं देने वाले प्रोग्रामों को मशीनी भाषा में अनुवाद करता है और यूजर की इच्छा के अनुसार Output निकालने के लिए Data Management करता है. वास्तव में यह प्रोग्रामों को कार्य करने के लिए एक आधार उपलब्ध कराता है. Ex. MS Dos, Windows XP/2000/98, Unix. Linux आदि OS के कुछ उदाहरण है.

> जरुर पढ़े – Top 10 Computer Web Browser List In Hindi

Functions of Operating System । ऑपरेटिंग सिस्टम के कार्य.

1. कंप्यूटर तथा उसके उपयोगकर्ता के बीच Communication स्थापित करना.
2. कंप्यूटर्स के सभी Devices को Control में रखना तथा उनसे काम लेना.
3. उपयोगकर्ता द्वारा दिये प्रोग्रामो का पालन करना.
4. सभी Programs के लिये आवश्यक साधन जैसे Memory, CPU, Printer आदि उपलब्ध कराना.
5. ऊपर बताए गए कार्यो में सहायक, दूसरे छोटे-छोटे कार्य करना या उनकी व्यवस्था करना.

  • Device Driver । डिवाइस ड्राइवर.

यह एक स्पेशल Computer Software होता है, जो किसी भी Device Operation को समझता है. यह सॉफ्टवेयर किसी युक्ति तथा उपयोगकर्ता के Central Interface का कार्य करते है. किसी भी डिवाइस को सुचारू रूप चलाने के लिये चाहे वो प्रिंटर, माउस, मोनिटर या कीबोर्ड ही हो, उसके साथ Driver Program जुड़ा हुआ होता है.

यह ऑपरेटिंग सिस्टम कमांड्स को कंप्यूटर के विभिन्न भागों के लिए उनकी भाषा मे परिवर्तित करता है. Device Drivers निर्देशो का ऐसा समूह होता है जो हमारे कंप्यूटर का परिचय उससे जुड़ने वाले Hardwares से करवाते है.

  • System Utilities ! सिस्टम यूटिलिटीज.

सिस्टम यूटिलिटीज कंप्यूटर के रखरखाव से सम्बंधित कार्य करते है. यह Programs Computer के कार्य को सरल बनाने, उसे अशुद्धियों से दूर रखने तथा सिस्टम के विभिन्न सुरक्षा कार्यो के लिये बनाये जाते है. यह प्रोग्रान्स क़ाय ऐसे काम करते है, जो कंप्यूटर्स का उपयोग करते समय हमे कराने पढ़ते है.

उदाहरण के लिए, कोई यूटिलिटी प्रोग्राम हमारी Computer Files का Backup किसी External storage devices पर लेने का कार्य कर सकता है. यह Computer System Software के Compulsory Parts नही होते है, परन्तु Normally उनके साथ ही आते है और कंप्यूटर के निर्माता द्वारा ही उपलब्ध कराए जाते है. Utilities Software Types कुछ इस प्रकार के है.

computer softwere मे कई पेड और फ्री सॉफ्टवेयर जो इसी प्रकार मे आते है. तो यह थे सभी Sistema software के प्रकार चलिए अब देखते है Computer Application Software की जानकारी.

2. एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर.

Application Software उन Programs को कहा जाता है जिन्हें यूजर अपनी आवश्यकता अनुसारे अपने General Purpose के लिए इस्तेमाल करता है. जैसे Office Employees के Salary Calculation करना, सभी Transaction तथा Accounts की जानकारी रखना, विभिन्न प्रकार की Report छापना (Print करना), Stock Status देना, Letter Documents रेडी करना आदि कंप्यूटर वास्तव मे इन्ही कामो के लिए Purchase या बनाये जाते है.

यह कार्य हर Company या User के लिए अलग-अलग प्रकार के होते है इसीलिए हमारी आवश्यकता के अनुसार इनके लिए Programs हमारे द्वारा नियुक्त प्रोग्रामर द्वारा लिखे जाते है. हालाकि आज कर एसे प्रोग्राम्स सामान्य तौर पर सबके लिए एक जैसे लिखे हुये भी आते है. जिन्हें Readymade Software Package कहा जाता है.

जैसे Microsoft Word, Microsoft Excel, Taily, Coral Draw, Page Maker, Adobe Photoshop आदि. Generally एप्लीकेशन सॉफ्टवेर दो प्रकार के होते है पहला सामान्य उद्देशीय सॉफ्टवेर और दूसरा विशिष्ट उद्देशीय सॉफ्टवेर. इन दोनों के अंग्रेजी नाम और उनकी जानकरी निचे दी गयी है.

  • General Purpose Software.

प्रोग्रामो का समूह, जिन्हें आवशकता नुसार अपने जनरल पर्पस के लिए इस्तेमाल मे लिए जाते है. इसमें Graphics Software आते है जिसके इस्तेमाल द्वारा यूजर Created Data का Graphics Presentation करता है. यह सॉफ्टवेर विशेष कार्यो से संबंधित होते है, परन्तु इसका उद्देश केवल सामान्य कार्य करने के लिए होता है. जिसके कारण यह सॉफ्टवेर लगभग हर क्षेत्र, हर संस्था तथा कार्यालय मे हररोज इस्तेमाल किये जाते है. उदाहरण के लिए देखते है

 List of Computer Software General Purpose Use.

  1. Electronic Spread Sheet (इलेक्ट्रॉनिक स्प्रेड शीट),
  2. Database Management System (डेटाबेस मैनेजमेंट सिस्टम),
  3. Desktop Publishing Software (डेस्कटॉप पब्लिशिंग सॉफ्टवेर),
  4. Graphics Software (ग्राफ़िक्स सॉफ्टवेर),
  5. Word Processing Software (वर्ड प्रोसेसिंग),
  6. Coral Draw (कोरल ड्रा),
  7. Paint (पेंट)
  8. Multimedia Software (मल्टीमीडिया सॉफ्टवेयर)
  9. Microsoft Power Point (माइक्रोसॉफ्ट पॉवर पॉइंट सॉफ्टवेर्स आदि आते है.

इनमे कुछ New Software जुड़ सकते है जो अपने नाम से जाने जाते है. अब देखते है एप्लीकेशन सॉफ्टवेर के अंतर्गत आने वाले विशिष्ठ उद्देशीय सॉफ्टवेर की जानकारी.

  • Specific Purpose Software.

यह सॉफ्टवेयर्स किसी विशेष उद्देश की पूर्ती के लिए बनाये जाते है. इस प्रकार के सॉफ्टवेयर का Mostly एक Purpose होता है. सामान्य रूप से इस्तेमाल किये जाने वाले कुछ विशिष्ट उद्देशीय सॉफ्टवेयर लिस्ट निचे दी गयी है.

  1. Inventory Management System And Purchasing System.
  2. Payroll Management System.
  3. Hotel Management System.
  4. Reservation System.
  5. Report Card Generator.
  6. Accounting Software.
  7. Billing System Softwares.

इन सभी प्रकार के Computer Software Download और Buy किये जाते है उसे इस्तेमाल करने वाले यूजर की Need को देखते हुए. क्या आपको पता है सिस्टम तथा एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर मे अंतर क्या है जानते है? अगर नहीं तो इनमे क्या Differences है जान लीजिये.

System Software Application Software
कंप्यूटर सिस्टम के लिए सिस्टम सॉफ्टवेर होना अति आवश्यक है. कंप्यूटर सिस्टम के लिए एप्लीकेशन सॉफ्टवेर होना आवश्यक नहीं है.
सिस्टम सॉफ्टवेर को विकसित करना अधिक जटिल होता है. एप्लीकेशन सॉफ्टवेयर को बनाना कठिन नहीं होता है.
यह हार्डवेयर को संचालित कर एप्लीकेशन को रन करता है. यह यूजर द्वारा दिए गए कार्य को ही करता है.
System Software महंगे होते है. Application Software सस्ते होते है.
सिस्टम सॉफ्टवेयर को Customize नहीं किया जा सकता. एप्लीकेशन सॉफ्टवेर को Customize किया जा सकता है.

> जरुर पढ़े – Computer Network क्या है ! कंप्यूटर नेटवर्क और नेटवर्किंग के प्रकार.

हर एक यूजर की Best Software के बारे मे अपनी पसंद है. आप बताइए आपके Best Computer Software List मे कौनसे नाम है जो Add करना चाहते है. आशा करते है आपको PC Software List की जानकारी पसंद आयी होगी. इसी प्रकार के सॉफ्टवेयर्स अपडेट सबसे पहले पाने के लिए हमारे वेबसाइट को Subscribe करे. कृपया अगर आपको कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की यह जानकरी पसंद आयी है तो Social Media मे जरुर Share करे. HindiMePadhe को इतना प्यार देने के लिए सभी पाठको को शुक्रिया.***

Waw ! Love This Post!

If You Like This Article Please Subscribe And Share On Social Media.

Comments

  1. By Anupam Deshpande

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *