आज की पोस्ट यह BDS Course Full Form, पात्रता मानदंड, एडमिशन, कोर्स फीस, etrance exam, Duration, Syllabus, Jobs और वेतन की जानकारी के बारे में है।

BDS Course Full Details In Hindi

यह Course medical कर रहे छात्र करते है। BDS course details में ज्यादा जानकारी उपलब्ध नहीं है इस वजह से हम यह article लिख रहे हैं जहां आपको bds kya hota hai, बीडीएस कोर्स कैसे करें, कितना समय लगेगा और कितना खर्च लगेगा यह सारी बातें ना बताने जा रहे हैं।

मेडिकल के फील्ड में MBBS के बाद यह दूसरा सबसे प्रचलित course है इस कोर्स में दांत की पढ़ाई करवाई जाती है। बीडीएस का मतलब और इससे जुड़े अन जानकारी को पाने के लिए इस लेख के साथ अंत तक बने रहे।

Related – BAMS Course Full Details

BDS क्या है?

बीडीएस क्या है अगर आप इस course में अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो आपको बी डी एस कोर्स कब करते हैं और बी डी एस का कोर्स क्या है इसकी पूरी जानकारी हासिल करनी ही चाहिए।

BDS medical course है जो भारत में काफी प्रचलित है। एमबीबीएस के बाद अधिकांश लोग Medical में BDS करते हैं। यह course 2007 से पहले केवल internship में मौजूद था।

मगर 2007 के बाद इस course को पूर्ण तरह एक Under Graduate course बना दिया गया है जो 5 साल का होता है। इसके बाद अब India की किसी हॉस्पिटल में 1 साल का internship करना होता है।

आपको बता दें कि BDS का course 12वीं के बाद कर सकते है। कोई अच्छा College में Admission लेने के लिए आपको NEET की परीक्षा Pass करनी होगी।

नीट की परीक्षा के बिना भी आप अपने मनचाहे College में BDS Course Admission के लिए Apply कर सकते है पर उसके लिए आपको उसी college का रिटर्न परीक्षा निकालना होगा और फिर आप उस college में Admission ले सकते हैं।

12वीं के बाद किसी medical college से बीडीएस करने में आपको 5 साल का वक्त लगेगा उसके बाद भारत के किसी भी अस्पताल में आपको 1 साल का internship करना होगा।

उस internship के पूर्ण होने के बाद आपको किसी भी हॉस्पिटल में दांतो के डॉक्टर के रूप में नियुक्त कर लिया जाएगा।

BDS full form in Hindi.

बी डी एस यह एक medical course है जिस का मतलब Bachelor of dental surgery होता है। यह course लगभग भारत के हर medical colleges में करवाया जाता है।

BDS Meaning होता है कि अब यह वक्ति दांतों की बीमारियों के बारे में समझ रखता है और दांत की हर प्रकार की बीमारी का इलाज कर सकता है।

इसके लिए आपको सरकारी या गैरसरकारी कैसी भी हॉस्पिटल में नौकरी मिल सकती है या फिर आप अपना खुद का Clinic भी खोल सकते हैं।

यह course 5 साल का होता है जिसमें छात्रों को दांत और उससे जुड़ी बीमारियों के बारे में विस्तारपूर्वक पढ़ाया जाता है अंत में 1 साल का internship भी होता है।

बीडीएस के फुल फॉर्म से आप यह बात समझ सकते है की यह एक medical degree है जिसमें आपको दांत के बीमारियों के बारे में पढ़ाया जाता है और उनका इलाज भी सिखाया जाता हैं।

BDS Eligibility Criteria.

BDS एक पढ़ाई है जिसके लिए आप की educational qualification मायने रखती है इस पढ़ाई को करने के लिए आपकी physical ability कोई मायने नहीं रखती।

BDS Course Eligibility Criteria.

  • आपको सबसे पहले दसवीं कक्षा और अच्छे अंको से pass करनी होगी अब कोई 11वीं और 12वीं के लिए अच्छी जगह Admission मिल सके।
  • उसके बाद आपको 12वीं कक्षा अच्छे अंको से pass करनी है 12वीं में 50% से अधिक अंक लाना important है।
  • अब आप BDS के course के लिए आवेदन कर सकते है जिसके लिए आप NEET की परीक्षा दे सकते हैं।
  • NEET की परीक्षा में आपका जैसा अंक रहेगा उस हिसाब से आपको college मिलेंगे अगर आप NEET की परीक्षा नहीं देना चाहते तो आप अपने मनचाहे college के लिए आवेदन भी कर सकते है और उस college का Entrance exam निकाल सकते हैं।

बीडीएस के लिए क्या न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता ऊपर बताया गया है।

BDS के लिए Apply कैसे करे?

BDS एक अच्छा course है और अगर आप इस course के लिए आवेदन करना चाहते है तो आपको सबसे पहले medical entrance exam देना होगा जिसे हम NEET, AIPMT, COMDK के नाम से जानते हैं।

आपको बता दें कि neet या aipmt जैसे परीक्षा में बहुत सारे छात्र बैठते हैं और अलग-अलग अंक प्राप्त करते हैं जिसका अंक सबसे अच्छा होता है उसे सबसे अच्छे college में Admission मिलता है तो आप यह कह सकते हैं कि इस परीक्षा में बैठने वाले छात्र छात्रों को उनकी योग्यता अनुसार college दिए जाते हैं।

कुछ ऐसे medical college भी है जो अपना एंट्रेंस exam लेते है मगर इस प्रकार के medical college की संख्या बहुत ही कम है।

अगर आप जिस college में Admission लेना चाहते है उसका Entrance exam NEET या AIPMT के अलावा भी होता है तो आप उस में आवेदन कर सकते हैं अन्यथा आपको NEET की परीक्षा से ही जाना होगा।

NEET और AIPMT की परीक्षा भारत में किसी भी प्रकार के medical college में Admission लेकर कोई भी medical course करने के लिए काफी प्रचलित है।

हर साल लाखों बच्चे इस परीक्षा के लिए आवेदन करते हैं और अपने अयोग्यता अनुसार college पाते हैं।

BDS Course Duration.

बीडीएस 2007 से पूर्व किसी course के internship के साथ करवाया जाता था मगर 2007 के बाद बीडीएस को एक Approved Bachelor Degree की अनुमति दे दी गई अब BDS Duration 5 साल का है।

जिसमें आपको 5 साल की पढ़ाई पूरी करने के बाद भारत के किसी हॉस्पिटल में 1 साल की internship भी करनी होती है। तो आप यह कह सकते है कि BDS course को पूरा करने में आपको 6 वर्ष का समय लगेगा।

उस internship के दौरान आपको डॉक्टरों के साथ रहकर दांत की बीमारी को समझना और उनका इलाज करना सीखते है।

उसे 1 साल में आप डॉक्टरों के साथ रहकर यह सीखते हैं कि काम कैसे किया जाता है और इससे पहले 5 साल आपको विभिन्न प्रकार के दांत और दांत की बीमारियों के बारे में पढ़ाया जाता है।

चलिए आपने देख लिया बहुत कुछ bds course duration and fees सब कुछ यहाँ मिल जायेगा।

BDS College Fees कितनी होती है?

यह BDS Course Fees हर college के अनुसार बदलती रहती है। College भी सरकारी, Private और Self Grant इस 3 तरह के होते हैं।

अगर यदि कोई NEET या AIPMT की परीक्षा पास करके जाते है तो उनको सरकारी college में Admission मिलने के ज्यादा उम्मीद रहती है।

लोग यह बीडीएस का कोर्स सरकारी college से करना चाहते हैं क्योंकि Government college में आप यह course 8 से 10 लाख रुपए में कर सकते हैं।

जो कि medical study के हिसाब से काफी सस्ता है मगर जब आप Private college से पढ़ेंगे तो यह रकम दोगुनी-तिगुनी हो सकती है।

BDS Course Syllabus.

BDS के course के लिए आपको किन-किन Books को पढ़ना आवश्यक है? किस syllabus को सिखाया जाता है इन बातों को नीचे बताया गया है।

BDS के semester 1 में .

  • General Human Anatomy including Embryology and Histology
  • Dental Anatomy, embryology, and Oral Histology
  • General Human Physiology and Biochemistry, Nutrition and Dietetics

BDS के semester 2 में.

  • Dental Materials
  • Preclinical Prosthodontics and Crown and Bridge

BDS के semester 3 में.

  • General Pathology and Microbiology
  • General and Dental Pharmacology and Therapeutics
  • Preclinical Conservative Dentistry

BDS के semester 4 में.

  • Preclinical Prosthodontics and Crown & Bridge
  • Oral Pathology & Oral Microbiology

BDS के semester 5 में.

  • General Medicine
  • General Surgery
  • Oral Pathology & Microbiology
  • Conservative Dentistry And Endodontics

BDS के semester 6 में.

  • Oral And Maxillofacial Surgery
  • Oral Medicine And Radiology
  • Orthodontics & Dentofacial Orthopaedics
  • Pediatric & Preventive Dentistry

BDS के semester 7 में.

  • Orthodontics and Dentofacial Orthopaedics
  • Oral Medicine and Radiology
  • Pediatric and Preventive Dentistry
  • Periodontology

BDS के semester 8 में.

  • Oral and Maxillofacial Surgery
  • Prosthodontics and Crown & Bridge
  • Conservative Dentistry And Endodontics
  • Conservative Dentistry And Endodontics

उम्मीद करते हैं आप यह समझ गए होंगे कि आपको BDS के course में किन चीजों के पढ़ाई करनी होगी।

इन 8 semester के अलावा 2 semester प्रैक्टिकल और फिर 1 साल का internship होता है जिसके बाद अब दाद की बीमारी और उसके इलाज के बारे में संपूर्ण ज्ञान पा लेंगे।

BDS Admission 2022.

अगर आपको BDS में Admission लेना है तो आपको तरीका पहले भी इस लेख में ऊपर बताया गया है जिसमें हमने आपको बताया था कि आपको NEET या AIPMT की परीक्षा पास करनी होगी।

जब आपको यह पता है कि आपको कौन सा परीक्षा पास करनी होगी और आपको कितना खर्च आएगा? तब आपको यह पता करना चाहिए कि भारत के सबसे अच्छे Top BDS college कौन से है जहां से आप यह कोर्स कर सकते हैं।

इन सभी college में आपको कम पैसे देने होंगे साथ ही वह Top 5 Best BDS colleges In India है जहां से आपको अच्छी Dream Jobs मिलने की संभावना सर्वाधिक है।

  • Nair Dental College, Mumbai
  • Manipal College of Dental Science, Manipal
  • King George’s Medical College University, Lucknow
  • Institute of Medical Science BHU, Varanasi
  • SDM College of Dental Science & Hospital, Sattur
  • Sumandeep Vidyapeeth University
  • Amrita Institute Of Medical Sciences
BDS Admission without NEET.

अगर आपको नीट की परीक्षा पास नहीं करनी है और उसके बाद भी आप चाहते हैं कि BDS का course करें। जैसा कि हमने आपको बताया था कुछ ऐसे college हैं जो bds admission without neet के देते हैं।

मगर हम आपको बता दें कि वह सारे private college है जिनकी Fees बहुत ज्यादा है साथ ही वहां से बीडीएस करने पर आपकी अच्छी नौकरी लगने की संभावना नहीं रहेगी।

सीधे शब्दों में आपको यह समझना चाहिए कि अगर आप NEET की परीक्षा पास नहीं करते हैं तो आपके BDS के course की अहमियत खत्म हो जाएगी।

लगभग सभी college NEET की परीक्षा में आए हुए Marks के आधार पर आपको BDS CollegeAdmission देते हैं।

2016 के बाद से BDS में Admission लेने के लिए NEET की परीक्षा को अनिवार्य कर दिया गया है। इसके साथ ही अगर आपको Abroad जाकर पढ़ने का मन है तब भी आप की नीट की परीक्षा बहुत अहमियत रखती है।

आपकी NEET की परीक्षा से न केवल India में बल्कि International Countries में भी आपको Admission दिला सकती है।

BDS Jobs और Scope.

हम हर तरह की Study इसलिए करते हैं ताकि हमारी Best Jobs लग सके। अगर आप भी बीडीएस की पढ़ाई अच्छी नौकरी पाने के लिए कर रहे हैं तो हम आपको बताने जा रहे है कि आप किस तरह की नौकरी को बी डी एस के बाद पा सकते हैं।

  • BDS करने के बाद आप किसी भी सरकारी या गैर सरकारी Forencic Club में आवेदन कर सकते हैं।
  • आजकल दाद की बीमारी काफी प्रचलित हो रही है जिस वजह से ना केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में दांत के Consultant की जरूरत है।
  • बीडीएस कोर्स के बाद अब सरकारी या गैर सरकारी college में Professor की नौकरी पर भी काम कर सकते हैं।
  • आपको भारत के बड़ी-बड़ी हॉस्पिटल में Dental Surgeon कि नौकरी भी मिल सकती है।
  • Private practice के जरिए आप अपना खुद का Clinic खोल सकते हैं जहां लोगों के दांतों का इलाज कर सकते हैं।
BDS Salary कितनी होती है?

जैसा कि सब जानते हैं BDS के बाद आप दांत के डॉक्टर बन जाते हैं। भारत में इस चीज की बहुत डिमांड है जिस वजह से आपको आसानी से किसी भी हॉस्पिटल में नौकरी मिल जाएगी।

एक बात महत्वपूर्ण है की Dental Surgen की Salary भी हर Hospitals के हिसाब से अलग-अलग हो सकती है।

अगर हम एक अनुमानित सैलरी की बात करें तो भारत में Dental Surgen को बड़े-बड़े अस्पतालों में 22 लाख से 50 लाख Yearly Package मिलता है साथ ही average या छोटे अस्पतालों में 10 लाख सालाना तक की तनख्वाह भी मिलती है।

अगर कोई व्यक्ति किसी हॉस्पिटल में डॉक्टर की नौकरी नहीं कर रहे हैं और अपना खुद का क्लीनिक खोल कर काम कर रहे हैं तो उनके Clinic के प्रचलित होने के आधार पर उनका वेतन तय होता है।

लोगो को मानना है की bds admission without donation हमें युही मिल जायेगा तो उन्हें हम कहना चाहेंगे इसके लिए आपके पास वह योग्यता होनी चाहिए।

एसे ही थोड़ी न कोई UPSC और MPSC को सफल करके SI, IPS, IS जैसे पदो पर चले जाते है। एसा कब होता है? जब वह इतना Study कर लेते है की Merit list मे अपना नाम जोड़ ही लेते है।

मेहनत करनी होगी उतने अंक अर्जित करने होंगे, entance exam मे अच्छे score अर्जित करने होंगे तभी government admission bds course के लिए बिना donation मिल जायेगा।

लोगो के बीडीएस कोर्स एडमिशन के बारे में पूछे गए सवाल.

उम्मीद करते हैं bds kya hai in hindi लेख को पढ़ने के बाद आपको इस course के जरिए मिलने वाली नौकरी के बारे में संपूर्ण ज्ञान मिल चूका होगा।

फिर भी सबसे जरूरी कुछ सवाल होते है जो हर दम पूछे जाते है उनका जवाब भी देना हमारा काम है जैसे निचे हमने Add किये है।

What is bds course in Hindi?

बीडीएस कोर्स को हिंदी में “दंतशल्य चिकित्सा स्नातक” कहा जाता है जो प्रचलित है “बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी” के नाम से.

बीडीएस कोर्स कितने दिन का होता है?

यह सवाल दिन में पूछने के बजाये कितने वर्ष का है यह होना चाहिए क्योकि 4 Years का बीडीएस कोर्स का अवधी है और इसके लिए अलग से 1 वर्ष का Internship भी पूरा करना होता है.

बीडीएस डॉक्टर कैसे बने?

बीडीएस का डॉक्टर बनने के लिए पहले दंत शल्य चिकित्सा स्नातक कोर्स की Degree Important है. यदि किसी व्यक्ति के पास यह डिग्री होती है तो वह बीडीएस डॉक्टर बन सकता है.

दांतों के डॉक्टर को कौनसी डिग्री और सम्मान से जाना जाता है?

आपने अक्सर सुना होगा की दांतोंके डॉक्टर को क्या कहा जाता है? इसमें डिग्री या सम्मान दोनों अलग-अलग है क्योकि दांतों के डॉक्टर को Dentist के नाम से जाना जाता है.

BDS के बाद विदेशो मे कितनी salary होती है?

B.d.s के लिए बहुत अच्छा scope है विदेशो मे क्योकि शुरुवाती पैकेज के लिए 60,000,00 से लेकर 1,50,000,00 तक वेतन मिल जाता है.

क्या बिना neet परीक्षा के बीडीएस कोर्स नहीं कर सकते है?

भारत मे तो neet entrance exam होना अनिवार्य है. भारत के बाहर nepal जैसे देखो मे विदेशो मे यह मुमकिन तो है लेकिन इसके लिए fees के तौर पर बेहद ज्यादा पैसा भरना होगा.

बीडीएस कोर्स करने के फायदे क्या है?

यह अपने आप मे एक Opportunity क्योकि हर व्यक्ति कुछ नया कर सकता है. इसके लिए कोई अंदाजा नहीं लगाया जा सकता क्योकि जिसे रास्ता मिल गया वह मंजिल पायेगा और जो अटक गया गोते खायेगा.

बीडीएस के बाद एक अच्छे डेंटिस्ट स्पेशलिस्ट बन सकते है, एक अच्छा दांतों का डॉक्टर भी बन सकते हैं, अपने खुद का अस्पताल शुरू कर सकते हैं, बीडीएस बैचलर ऑफ डेंटल सर्जरी कोर्स के बाद आप एक Surgen भी कहलायेंगे, कई प्रकार के दांतों के क्षेत्र मे डेंटिस्ट के एक्सपीरियंस होल्डर बन सकते हैं.

मेडिकल लाइन कोर्स लिस्ट मे कौनसे कोर्स आते है?

कई कोर्स है medical field मे जैसे की बीडीएस, एमबीबीएस, बीएससी नर्सिंग, डी. फार्मा., बी. फार्मा., बीयूएमएस, बीएएमएस और BTP आदि. डरिये मत आगे बढिए क्योकि भारत के बाहर और भारत में बीडीएस के बाद गुंजाइश बहुत ज्यादा अच्छी है.

आप यह समझ गए होंगे कि bds course in hindi क्या है? B.D.S के लिए Admission कैसे करे, बड्स कोर्स फीस, बीडीएस का कोर्स कैसे कर सकते हैं.

साथ ही हम उम्मीद करते हैं कि आपके मन में उपस्थित बीडीएस क्या है?, BDS Admission 2022 से जुड़ी सभी सवालों का हल इस लेख में मिला होगा। अंततः अगर आपको यह लगता है कि इस लेख में BDS course के बारे में सभी प्रकार की जानकारी दी है तो इसे अपने मित्रों के साथ साझा करें और अपने विचार हमें बताना ना भूलें।