Basic Computer Knowledge- बेसिक कंप्यूटर नॉलेज, Introduction To Computer – कंप्यूटर का परिचय.

Last updated on September 11th, 2018 at 10:21 am

प्रिय पाठक, स्वागत है आपका Basic Computer Knowledge की पोस्ट पर. सभी जानते है की कंप्यूटर के बिना अब दुनिया से मुकाबला करना आसान नही रहा है. हमने इससे पहले भी Basic Computer Programming Tutorial के आर्टिकल पब्लिश किये है जिन्हें आप ब्लॉग के सर्च बार के माध्यम से सर्च करके पढ़ सकते है. हर क्षेत्र अब कुरुक्षेत्र बन चूका है, अगर आपकी कंप्यूटर पर अच्छी कमांड है तो आपको कंप्यूटर बेसिक्स की पूरी जानकारी होगी. लेकिन जिन्हें कंप्यूटर के बारे मे ज्यादा जानकारी नही है उनके लिए यह कंप्यूटर वर्ड किसी कुरुक्षेत्र के मैदान से कम नही है.Basic Computer Knowledge in hindi

अगर आप को भी कम्पूटर की जानकारी चाहिए तो आपको यह पोस्ट अवश्य पढ़नी चाहिए. आपको पता होना चाहिए की सिर्फ MSCIT Course के माध्यम से ही नही कोम्पुटर बेसिक्स की जानकारी ली जा सकती है, बल्कि इन्टरनेट पर पब्लिश किये जाने वाले डेली लाखो आर्टिकल्स को पढ़कर भी आप बहुत कुछ Computer Science Basics की जानकारी ले सकते है और उनसे बहुत कुछ सिख सकते है.

> Read – Hard Disk Drive Lock कैसे करे विस्तार से जानकारी पढ़िए.

उसी प्रकार आज के आर्टिकल के में हम कुछ Computer Basics For Beginners के लिए गाइड करने वाले है जिसकी मदत से आपको जरुरी जानकारी मिल सकती है. कंप्यूटर एक Automatic तथा Human Instruction के अनुसार काम करने वाला Electronic Device है, जो डेटा ग्रहण करता है तथा Software या Program के अनुसार, किसी परिणाम के लिए Data को Process, Stored अथवा Display करता है.

Basic Computer Knowledge – कंप्यूटर शब्द का निर्माण.

क्या आपको पता है कंप्यूटर शब्द का निर्माण कैसे हुवा? चलिए Basic Computer Knowledge की पोस्ट मे आपको यह मजेदार जवाब भी जान लेना चाहिए. कम्पूटर शब्द का निर्माण Latin Language के Computare शब्द से हुवा है. लेकिन कुछ Experts का मानना है की ‘कंप्यूटर’ शब्द की उत्पत्ती ‘Compute’ शब्द से हुयी है. जो भी हो लेकिन दोनों ही शब्दों का मतलब  ‘गनना’ करना है.

क्या आप जानते है कंप्यूटर शब्द के अंग्रेजी के टोटल आठ शब्दों को मिलकर बनाया गया है. जो इसके मतलब को और भी अधिक Comprehensive बना देता है. शायद ही किसी Computer Science Course मे इस बात को आसान भाषा मे समजाया जाता हो. चलिए देखते है Introduction To Computer, कंप्यूटर शब्द के आठ शब्द की जानकारी.

  1. C-COMMONLY.
  2. O-OPERATED.
  3. M-MACHINE.
  4. P-PARTICULARLY.
  5. U-USED For.
  6. T-TECHNICAL.
  7. E-EDUCATION.
  8. R-RESEARCH.

तो यह है वह आठ शब्द जिनके पहले नाम को मिलाकर एक शब्द को बनाया गया है, क्यों है ना बेहद रोचक जानकारी. कम्पुटर एक ऐसा यंत्र है, जिसका उपयोग Calculation, Process, Mechanics, Research आदि कार्यो में किया जाता है. Computer Hardware और Software का कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर का Combination है जो Data को Information मे बदलता है. चलिए अब जानते है कंप्यूटर प्रणाली की कार्य करने की प्रोसेस पर.

Basic Computer Knowledge- कम्प्युटर प्रणाली प्रोसेस की जानकारी.

Functioning of a Computer System- कॉम्प्युटर प्रणाली प्रोसेस मे निचे दिए गयी चार काम किये जाते हैं.
  1. Input- Computer मे Information को भेजना को ही इनपुट कहा जाता है
  2. Processing- Central Processing Unit कंप्यूटर के कामो को Execute करता है.
  3. Output- आउटपुट यह User को Processed data Provide कराता है.
  4. Storage- यह डेटा और Computer Program को Permanent रुप से Store करते है.Basic Computer Knowledge
तो यह चार विशेष काम कंप्यूटर प्रणाली मे किये जाते है, चलिए अब देखते है कंप्यूटर की विषेशताये कौन-कौनसी है?

> Read – Operating System क्या है? ऑपरेटिंग सिस्टम्स के प्रकार कितने है?

Features Of Computer – Basic Computer Knowledge की जानकारी.

Computer Features की बात करे तो यह बया कर पाना आसान नही है. यह System अनंत काम करता है जिन्हें गिन पाना बहुत मुश्किल है. फिर भी कंप्यूटर की कुछ मुख्य विशेषताए जरुर आपको बता सकते है जो निचे दिए गए है.

  • Speed– कंप्यूटर एक सेकंड में लाखों गणनायें करता है. वर्तमान समय में,कंप्यूटर नैनो सेकंड मैं भी गणना कर सकता है.
  • Accurancy-कंप्यूटर कठिन से कठिन प्रश्न का बिना किसी Error के परिणाम निकाल देता है. बल्कि अगर Calculation के दौरान अगर कोई गड़बड़ी पायी जाती है तो वह Programme या Data में होने वाले Human Mistakes के कारण होती है.
  • Storage Capacity– Computer Memory किसी भी तरह की Unlimited Information जमा कर सकता है. इसमें Unlimited Numbers और Programs को स्टोर करने की कैपेसिटी होती है. Computer के External तथा Internal Capacity के माध्यम (Hard Disk, Floppy Disk, Magnetic Tape, CD /DVD Rom) में  अनलिमिटेड देता और इन्फ़्रोमतिओन का Collection किया जाता है.
  • Versatile– कंप्यूटर की सहायता से अनेक प्रकार के कार्य संपन्न किये जा सकते है. Modern computers में अलग प्रकार के कार्य एक साथ करने की क्षमता है.
  • Secrecy– पासवर्ड के प्रयोग द्वारा कंप्यूटर के कार्य को गोपनीय बनाया जा सकता है.
  • Diligence– एक मशीन होने के कारन Computer पर बाहरी वातावरण कोई फर्क नहीं पड़ता. वह किसी भी कार्य को बिना रुके लाखो करोडो बार कर सकता है.
  • Automatic– कंप्यूटर एक आटोमेटिक मशीन है, जिसमे कैलकुलेशन के दौरान Human intervention की संभावना बहुत ही कम रहती है. हालांकि कंप्यूटर को कार्य करने के लिये निर्देश मनुष्य द्वारा ही दीये जाते है.

Computer Programming का परिचय और इससे सम्बंधित शब्द. Intro to computer programming.

Basic Computer Knowledge की जानकारी मे ऊपर आपने जाना ‘Computer Features’ के बारे मे अब आपको यह भी जान लेना चाहिए की इससे सम्बंधित शब्द कौनसे है और वह घटक कौनसे है जिनसे मिलकर कंप्यूटर अपना कार्य करते है.

  •  Hardware.
कंप्यूटर के सभी भाग जिन्हें हम हाथों से छु सकते है एवं देख सकते है उन्हें हार्डवेयर कहते है. Mechanical, Electrical और Electronic Parts कंप्यूटर के हार्डवेयर Mother Board, Monitor, Key-Board, Mouse और Printer आदि होते है.
  • Software.
किसी भी एक निश्चित कार्य को पूरा करने के लिये Group Program Instructions या Software Program कहलाता है. प्रोग्राम कंप्यूटर को Input Actions का निर्देश देता है, जैसे Notepad, MS Office, Game आदि.
  • Data.
डेटा तथ्यों और अव्यवस्थ आंकड़ो का मिलन है. डाटा को दो भागों में बदला जा सकता है जो निचे दिए गए है.
  1. Numerical data- इसमें 0 से 9 तक के अंको का प्रयोग किया जा जाता है. Ex- Exam में आया हुवा Seat Number etc.
  2. Symbolic Data- इसमें आंकड़ो, अक्षरों तथा चिन्हों का इस्तेमाल किया जाता है.जैसे किसी का पता, पैन कार्ड नंबर आदि.
  • Processing.
डाटा की जाने वाली उन क्रियाओं को जिनसे सुचना प्राप्त होती है उसे प्रोसेसिंग कहा जाता है. Data Processing का मुख्य लक्ष अव्यवस्थित डाटा से व्यवस्थित डाटा प्राप्त करना है जिसका इस्तेमाल Decision लेने के लिए होता है.
  • Information.
जब डाटा को उपयोगी बनाने के लिये इसे Processed, Organized और Protect किया जाता है तो प्राप्त डाटा इनफार्मेशन कहलाता है. तो यह थी Basic Computer Knowledge की जानकारी.

> Read – Hotspot Internet कैसे चलाये? मोबाइल से कंप्यूटर पर इन्टरनेट कैसे चलाये?

इस प्रकार से Basic Computer Knowledge की पूरी जानकारी को कवर करने का हमने प्रयास किया है, अगर आपको Computer Fundamentals Questions And Answers मे भाग लेना है तो आप निचे कमेंट बॉक्स मे कमेंट कर सकते है. इसी तरह की Introduction To Computer Programming की और भी महत्वपूर्ण आर्टिकल्स आपके ईमेल इनबॉक्स मे पाने के लिए ब्लॉग को सब्सक्राइब करे. तथा इस पोस्ट को सोशल मीडिया मे जरुर शेयर करे.

***************** 

Waw ! Love This Post!

If You Like This Article Please Subscribe And Share On Social Media.

Comments

  1. By mastergyanhindi

    Reply

  2. By neha. dwivedi

    Reply

  3. By Anand Singh

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *