Karamati Kabootar, Shikari Aur Murkh Badshaha Ki Majedar Kahani – Aflatoon Hindi Story

प्रिय पाठक, स्वागत है आपका आज की हिंदी कहानिया की Karaamaati Kabootar, Shikari Aur Murkh Badshaha Ki Hindi Story पर. बड के पेड़ पर सिंधुक नाम का एक कबूतर रहता था. उसकी एक बात बड़ी अनोखी थी. जब वह बीट करता था, तो वह सोना बन जाती थी.Karamati Kabootar, Shikari Aur Murkh Badshaha Ki Majedar Kahani

एक बार शिकार की तलाश मे एक शिकारी उस पेड़ के पास से गुजर रहा था तभी उस Kabootar ने बीट कर दी. देखते ही देखते वह सोना हो गयी. शिकारी ने यह देखा तो देखता ही रह गया. पहले तो उसे यकीन नहीं हुवा और उसने अपने आपकी चुटकी काटी और देखा की कही यह सपना तो नही है.

> Read – Chatur Khargosh Lambkarn Aur Darpok Hathi ChaturDatt Ki Behatareen Hindi Kahani.

उसने सोचा मेरा पूरा जीवन शिकार करते ही बिता है, पर मैंने एसी विचित्र बात कभी नही देखी. पक्षी का बिट सोना बन जाये. ऐसे पक्षी को कुछ भी करके फ़साना चाहिए.

शिकारी ने पेड़ पर जाल फैला दिया. वह विचित्र Kabootar जाल में फस भी गया. शिकारी उसे पिंजरे मे डालकर घर ले आया. घर आकर शिकारी ने सोचा – ‘अगर राजा को यह बात मालूम हो गयी तो वह मुझे जिन्दा नही छोड़ेगा, कहेगा की यह कबूतर मैने उसके पास क्यों नही पहुचाया.

डरकर शिकारी ने वह Kabootar राजा को भेट कर दिया. बादशहा भी इस बात से बेहद प्रसन्न हुवा. और हो भी क्यों न सोने की बीट करने वाला पक्षी जो उसे मिल गया था. राजा ने आज्ञा दी- ‘इस पक्षी के खाने-पिने, रहने का हर आराम का पूरा-पूरा ध्यान रखा जाये.

मंत्री ने जब देखा की एक मामूली Kabootar के लिए ख़ास नौकर-चाकर रखे जा रहे है, अंधाधुंध खर्च किया जा रहा है, तो उसने महाराज से कहा- ‘महाराज! बुरा न मानो मै एक बात कहू?’

कहिये! महाराज ने कहा.

> Read – Lobhi Gidhad, Shikari Aur Suvar Ki Hindi Story- Lalach Buri Bala Hai.

आप कैसे जानते है की यह Kabootar सचमुच सोने की बीट करेगा? एसा न कभी हुवा है और ना कभी हो सकता है, शिकारी की बात पर यु ही विश्वास कर लेना ठीक नही है.

राजा ने सोचा मंत्री ठीक कह रहा है, भला Kabootar सोने की बीट क्यों करने लगा? मै भी शिकारी की बेकार बात मे आकर मुर्ख बन गया. बादशहा ने आज्ञा दी ‘इस कबूतर को छोड़ दिया जाये’.

कबूतर को छोड़ दिया गया. Kabootar को छोड़ने के बाद वह महल के मुख्य द्वार पर जा बैठा और वही पर उसने बीट कर दी.  बीट करते ही वह सोना बन गया सबके सब देखते ही रह गए.

तभी Kabootar बोला पहला मुर्ख तो मै था जो शिकारी के जाल मे फंसा, दूसरा मुर्ख था शिकारी, जिसने मुझे राजा के हाथ मे दिया, और फिर यह बादशहा भी कम मुर्ख नही नही है जिसने घर आये सोने को ठुकरा दिया. इतना कहकर करामाती कबूतर फुर्र से उड़ गया.

जब बादशाह ने यह बात सुनी तो उसने तो अपना सर ही पीट लिया. मगर अब क्या हो सकता था, सांप के निकल जाने के बाद लकीर पीटने से क्या लाभ होने वाला था.

सिख- किसी भी कही बात को सच या गलत नही मानना चाहिए. पहले उसपर थोड़ी जानकारी जुटाए तभी आख बंद कर भरोसा करे. लेकिन ध्यान रहे आख बंद करके किसी पर भरोसा करना भी संकट को आमन्त्रण दे सकता है.

> Read – गुल ने सनोबर के साथ क्या किया चमत्कारी सवाल – अनसुलझी रोचक हिंदी कहानी.
> Read – राजकन्या मेहेरअंगेज का चमत्कारिक सवाल- गुल ने सनोबर के साथ क्या किया पार्ट 2.
> Read – Rajkanya Meherangej Se Badla- Gool Ne Sanobar Ke Sath Kya Kiya Part 3.
> Read – Gul Ne Sanobar Ke Sath Kya Kiya Part 4- Best Suspense Hindi Story.

इसप्रकार से Karamati Kabootar हिंदी कहानी का अंत हुवा, आशा करते है आपको यह हिंदी कहानिया पसंद आ रही होंगी. इसीप्रकार की हिंदी की कहानिया अपने ईमेल इनबॉक्स पर पाने के लिए ब्लॉग को सब्सक्राइब जरुर करे. तथा इस Hindi Story को अपने मित्रो को गुदगुदाने के लिए उनके साथ सोशल मीडिया मे जरुर शेयर करे.

***************

अमेजिंग ! धन्यवाद आपको यह पोस्ट पसंद आयी!

HindiMePadhe.com वेबसाइट को इतना प्यार देने के लिए आपका दिल से शुक्रिया. एसीही Blogging, Education, EPFO, Hindi Story और Banking सेक्टर से जुडी हर नयी पोस्ट के अपडेट आपके ईमेल इनबॉक्स मे पाने के लिए ब्लॉग को यहा से फ्री मे सब्सक्राइब करे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *