GST Input Tax Credit Kya Hai- GST Input Tax Credit Tax Ki Puri Jankari HindiMe

प्रिय पाठक, स्वागत है आपका आज की पोस्ट GST Input  Tax Credit Kya Hai?  ०१/०७/२०१७ के बाद लागु हुए GST ने भारतीय कारोबारी, व्यापारी, जैसे लोगो में बेहद टेन्शन छा  गया है.  क्या है इसका मुख्य कारन?  इसका मुख्य कारन है जीएसटी के बारे में अधूरी जानकारी होना. इस पोस्ट से पहले भी हमने सभी लोगो के लिए बेहद आसान जानकारी GST के बारे में पब्लिश की है. GST Kya Hai ? इसकी पूरी जानकारी आप विस्तार से जान सकते है.GST Input Tax Credit Kya Hai

इसी के साथ साथ GST Registration Kaise Kare? यह जानकारी भी आप जान सकते है. अगर आपको GST Tax Rates की पूरी जानकारी नहीं है की कौनसी वस्तु या व्यापार में कौनसा और कितना परसेंट GST Tax लगता है तो अब आप हमारे ब्लॉग पर पब्लिश GST Rate Finder से आसानी से जान सकते है. कोई भी आपको झूठी जानकारी देकर ज्यादा GST Tax नहीं ले सकता. GST Rules को समजिये और भारत की प्रगती में अपना योगदान दीजिये. चलिए अब जानते है GST Input Tax Credit क्या होता है.

> Read – GST Rates Kaise Pata Kare Ultimate Guide.

GST Taxes कौन कौनसे है?

आप ज्यादा जानकारी के लिए GST Bill Important Faqs की पोस्ट जरूर पढ़े जिससे आपके मन में चल रहे काफी सारे सवालो के जवाब आपको मिल जायेंगे. GST Rules के अनुसार GST Taxes में Central Government और State Government द्वारा तीन प्रकार के GST Taxes बनाये गए है. जिनमे निचे दिए गए अनुसार नाम दिए गए है.

  1. CGST
  2. SGST
  3. IGST

> CGST और SGST में Intra-State मतलब (Within The State) अपने ही राज्य में माल या सामान Sale या Supply कर सकते है.

> IGST में Inter-State मतलब (Outside The State) अपने राज्य के आलावा बाहर के राज्य में भी माल या सामान Sale या Supply कर सकते है.

GST Input Tax Credit Kya Hai?

जीएसटी में GST Input Tax  Credit का मतलब होता है कारोबारियों, व्यापारियों तथा बिजिनेसमेन को GST के अंतर्गत Government की तरफ से मिलने वाली छूट है. या फिर इस प्रकार भी कह सकते है की GST Tax Refund करने का एक तरीका है इसीको GST Input Tax  Credit कहा जाता है.  GST Input Tax Credit के लागु होने से अब Taxes के ऊपर लगने वाले टैक्स ख़त्म हो चुके है अब इस प्रकार के कोई भी Tax नहीं लगेंगे.

> Read – Bounce Rate Kya Hai? Sabhi Bloggers Ke Liye Jaruri.

समज लीजिये कोई भी माल  या सामान बनाने वाला Businessmen है जिसका नोटबुक्स और पेन बनाने का Business है. अब यह बिजिनेसमेन अन्य कोई भी Supplier से 1000 रुपये का Notebooks या Pen बनाने के लिए जरुरी Raw Material जिसे कच्चा माल कहा जाता है वह खरीदता है. तो इस कच्चे माल को खरीदने वाले पब्लिशर को जिसके पास से Raw Material खरीद रहा है उसे एक्स्ट्रा 12% GST Tax चुकाता है जो गवर्नमेंट को जाता है. मतलब टोटल 1120 रुपये चुकाता है.

अब ये 120 रुपये जो GST Tax के रूप में Government को Pay किया वह अलग से होगा. मतलब अब आगे जाकर उस कच्चे माल से निर्माता जो नोटबुक और पेन बनाता है वह Pen और Notebooks बनाता है उस पर अपना मार्जिन 110 रुपये जोड़कर बड़े या थोक व्यापारी को बेचता है. मतलब 1120 +110 = 1230  बेचता है.

अब उस बिजिनेसमैन को 18% GST Tax लगेगा.  1230 रुपये पर 68.33 पैसे तो थोक विक्रेता को देने पड़ेंगे. मतलब अब उस माल की कीमत हो जाएगी 1230 +68.33= 1298.33 पैसे. जैसे की अब तक टैक्स पर टैक्स लग रहा था मतलब जो GST Tax भरा वह लागत बन जाती थी लेकिन GST में लागत 1000 ही रहेगी.

> Read – GST Kya Hai Full Information HindiMe.

ऊपर दी गयी जानकारी अनुसार नोटबुक और पेन के कच्चे माल को खरीदते वक़्त Businessmen ने Already पहले ही सरकार को 12 % GST Tax के रूप में Pay कर दिया है. अब उन्हें सिर्फ ६% ही GST Tax चुकाने की जरुरत है. फिर भी वह 18 % Tax  चुकाता है. अब जो बचता है 12 % जो पहले ही दे चुके है वही Input Tax Credit कहलाता है जिसे आपको GST Refund के लिए GST Tax Return फाइल करना है.

जरुरी सूचना :- ध्यान रहे जिन Businessmen या व्यापारियों ने Composition scheme ली है और GST Unregistered है तो वह GST Input Tax Credit का फायदा नहीं ले सकता तथा जिनसे आप कच्चा माल खरीदते है या बेचते है वह सभी GST Registered होने चाहिए. कच्चे माल खरीदने से लेकर माल बनने के बाद तथा बिकने के बाद सभी Invoice Vouchers और Invoice Amount जुड़नी चाहिए नहीं तो ITC का फायदा नहीं मिलेगा.

इस प्रकार आशा करते है की ऊपर दी गयी पोस्ट GST Input Tax Credit Kya Hai? की जानकारी से आप जान गए होंगे की इनपुट टैक्स क्रेडिट क्या है तथा इसका फायदा कैसे लिया जाये. इसी प्रकार की GST से जुडी सभी जानकारी प्राप्त करने के लिए ब्लॉग को Subscribe करे. तथा इस पोस्ट को सोशल मीडिया में शेयर जरूर करे.

अमेजिंग ! धन्यवाद आपको यह पोस्ट पसंद आयी!

HindiMePadhe.com वेबसाइट को इतना प्यार देने के लिए आपका दिल से शुक्रिया. एसीही Blogging, Education, EPFO, Hindi Story और Banking सेक्टर से जुडी हर नयी पोस्ट के अपडेट आपके ईमेल इनबॉक्स मे पाने के लिए ब्लॉग को यहा से फ्री मे सब्सक्राइब करे.

Comments

  1. By Shrvan kumar

    Reply

  2. By ram dewangan

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *